ChaibasaJharkhandNEWS

Chakradharpur: क्षत्र‍िय समाज की बह‍िष्‍कार की घोषणा के बाद भाजपा नेता अशोक षाड़ंगी बैकफुट पर, माफी मांगी

Chakradharpur : झाररखंड अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष सह वरिष्ठ भाजपा नेता अशोक षाड़ंगी ने रविवार को अपने पुरानीबस्ती स्थित कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि उनकी न ही क्षत्रिय समाज और न ही महाराजा अर्जुन सिंह के इतिहास को ठेस पहुंचाने की कोई मंशा है. यदि गलती हुई भी है तो वे अपने शब्दों को वापस लेते हैं. उन्होंने कहा कि मेरे उपर आरोप लगाया गया है कि महाराजा अर्जुन सिंह जो प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के महान योद्धा तथा सिंहभूम के महान प्रतापी राजा का अपमान किया है. ऐसा नहीं है. उन्होंने कहा कि यह मेरे में क्या, किसी में भी उनका अपमान करने का दुस्साहस नहीं है. उन्होंने कहा कि महाराजा अर्जुन सिंह के प्रति क्या सम्मान है वह हमसे अच्छा कोई नहीं जानते. पुरानीबस्ती को जो विरासत उन्होंने दिए हैं आज भी आदि दुर्गा पूजा के नाम पर उनकी परंपरा को निर्वाह करते आए हैं. हम लोगों की कोशिश है कि महाराजा अर्जुन सिंह की परंपरा को अमर कर के रखेंगे.

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर डॉ लक्ष्मीकांत महांती का बयान था कि महाराजा अर्जुन सिंह की पौत्रवधू को झारखंड सरकार से कोई लाभ नहीं मिल रहा है. जिस पर हमने कहा है कि वह महाराजा अर्जुन सिंह की पौत्रवधू नहीं है, बल्कि उनके भाई के पौत्रवधू हैं. उन्होंने कहा कि यदि मुझे इतिहास की जानकारी नहीं है और हमसे गलती हुई है तो मैं उसे स्वीकार करता हूं. मेरी कोई मंशा भी नहीं है और मैं कोई जातपात की राजनीतिक नहीं करता हूं. मैं समाज में हर वर्ग और हर जाति के साथ हूं. हमेशा समाज को लेकर कार्य करता हूं. यदि मेरे बोलने से किसी को दुःख हुआ है तो मैं अपने शब्दों को वापस लेता हूं. उन्होंने कहा कि यदि मेरे बयान से क्षत्रिय महासभा को तकलीफ हुर्अ है तो मैं झमा मांगता हूं.

ये भी पढ़ें- Cyrus Mistry Died: एक्सएलआरआई के नये कैंपस से लेकर टेल्को के मिलेनियम पार्क का उदघाटन किया था साइरस मिस्त्री ने

Related Articles

Back to top button