न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सोनू इमरोज के बाद रांची में एक और पूर्व कुख्यात अपराधी रावण की हत्या

पुलिस बोली- चडरी में रावण की थी कीमती जमीन, उसी को हड़पने के लिए की गयी होगी हत्या

89

Ranchi : कुख्यात अपराधी सोनू इमरोज की हत्या के बाद रांची में एक और पूर्व कुख्यात अपराधी की हत्या कर दी गयी. अपराधी राजू तिर्की उर्फ रावण की सोमवार की रात अज्ञात अपराधियों ने चाकू से गोदकर हत्या कर दी. रावण का शव मंगलवार की सुबह लोअर बाजार थाना क्षेत्र के चडरी से बरामद किया गया. उसके शव पर कई जगह चाकुओं से गोदे जाने के निशान पाये गये हैं. हत्यारे ने हत्या करने के बाद रावण के शव पर पत्थर से भी वार किया है. ऐसी आशंका जतायी जा रही है कि रावण की हत्या जमीन को लेकर की गयी है. शव मिलने की सूचना मंगलवार को स्थानीय लोगों ने लोअर बाजार थाना पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए रिम्स भेज दिया. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है.

जमीन हड़पने को लेकर हत्या की जतायी जा रही है आशंका

पुलिस के मुताबिक, राजू तिर्की उर्फ रावण पूर्व अपराधी था, लेकिन अब वह इससे दूर हो गया था. राजू तिर्की उर्फ रावण के पास रांची के चडरी इलाके में काफी कीमती जमीन थी और उसके साथ उसका कोई परिजन नहीं था. वह अकेले ही रहा करता था. पुलिस को आशंका है कि जमीन को हड़पने के लिए ही रावण की हत्या कर दी गयी होगी.

जमीन के चलते जा रही है जान

राजधानी रांची में जमीन की बढ़ती कीमत के चलते और जमीन के लिए हो रहे विवाद में लोगों की जानें भी जा रही हैं. जमीन को लेकर चल रहे खूनी संघर्ष में निर्दोष लोगों के साथ-साथ कई अपराधी और जमीन माफिया की भी हत्या हो चुकी है. हाल में कुख्यात अपराधी सोनू इमरोज और पुलिस के एसपीओ बुधु दास की भी हत्या जमीन विवाद के चलते हो गयी.

जमीन विवाद में अपराधियों की बढ़ गयी है सक्रियता

झारखंड बनने के बाद राजधानी रांची की जमीन की कीमत काफी बढ़ी है. जैसे-जैसे जमीन की कीमत बढ़ने लगी, वैसे-वैसे ही इस धंधे में अपराधियों की सक्रियता बढ़ गयी. सफेदपोश जमीन माफियाओं ने इस धंधे में सीधे न उतरकर अपने-अपने इलाके के कुख्यात अपराधियों को मोटी रकम देकर इस धंधे के संचालन में लगे हुए हैं.

राजधानी रांची में जमीन विवाद को लेकर हुईं हत्याएं

  • चार नवंबर को कुख्यात अपराधी सोनू इमरोज की हत्या कर दी गयी. सोनू का अपने ही मुहल्ले में रहनेवाले दूसरे गैंग से हिंदपीढ़ी की एक जमीन को लेकर अदावत चल रही थी.
  • सात सितंबर को सीएम आवास के सामने पुलिस के पूर्व एसपीओ बुधु दास की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. वजह- बुंडू में जमीन विवाद.
  • 17 सितंबर को रांची के बड़ा तालाब के पास मोहम्मद तबरेज उर्फ राजा की जमीन विवाद को लेकर गोली मारकर हत्या कर दी गयी.
  • एक अगस्त को मात्र दो फीट की जमीन के झगड़े में मांडर में महावीर उरांव नाम के व्यक्ति की हत्या कर दी गयी.
  • नौ जून को कांके के जमीन कारोबारी जन्नत हुसैन की अपहरण के बाद हत्या कर दी गयी.
  • तीन अप्रैल को कांके थाना क्षेत्र के बुकरू चौक के पास जमीन विवाद में व्यवसायी मनोज कुमार साहू उर्फ मंटू की हत्या हुई.
  • 15 मार्च को चुटिया थाना क्षेत्र के पावर हाउस चौक निवासी रांची यूनिवर्सिटी के रिटायर्ड क्लर्क अरुण नाग की हत्या कर दी गयी.
  • 22 मार्च को जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के चंदाघासी में जमीन कारोबारी संजय साहू की जमीन विवाद में हत्या कर दी गयी.
  • छह मार्च को लोअर बाजार थाना क्षेत्र के कुरैशी मुहल्ला में गढ़ाटोली की जमीन विवाद में कुरैशी मुहल्ला निवासी सलाम खान की हत्या कर दी गयी.
  • एक मार्च को नामकुम थाना क्षेत्र के लोवाडीह निवासी जमीन कारोबारी अंकुश कुमार उर्फ आशीष बड़ाईक पर दुर्गा सोरेन चौक पर फायरिंग हुई.
  • एक फरवरी को पुंदाग ओपी क्षेत्र के साहू चौक निवासी जमीन कारोबारी काशीनाथ महतो पर जमीन कारोबार के रुपये के विवाद में अशोक नगर गेट नंबर चार के पास फायरिंग हुई.
  • 21 जनवरी को नगड़ी थाना क्षेत्र की गुटुवा बस्ती में जमीन कारोबारी उमेश गंझू और शमशाद की हत्या कर दी गयी.
  • 22 जनवरी को रातू थाना क्षेत्र के जमीन कारोबारी सुंडील निवासी शंकर काशी की चटकपुर में गोली मारकर हत्या कर दी गयी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: