न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

साल बीतने के बाद भी निगम का ट्रस्ट एवं वेरीफाई सिस्टम लागू नहीं, नक्शा पास कराने में लोगों को हो रही परेशानी

320

Ranchi : नक्शा पास कराने के लिए रांची नगर निगम द्वारा लाये जाने वाली ट्रस्ट एवं वेरीफाई सिस्टम पूरी तरह से फेल होता दिख रहा है. गत वर्ष मार्च-अप्रैल माह में ही नगर विकास विभाग के तत्कालीन सचिव अरुण कुमार सिंह ने रांची सहित राज्यभर में इस सिस्टम को लागू करने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार कराने की इजाजत दे दी थी. साल भर से ज्यादा समय बीतने को है, लेकिन अभी तक इसे लागू नहीं किया गया है. स्थिति यही है कि नक्शा पास कराने के लिए आज भी लोगों को निगम के दफ्तरों की चक्कर लगानी पड़ रही हैं.

eidbanner

क्या है ट्रस्ट एवं वेरीफाई सिस्टम

आंध्र प्रदेश में लागू ट्रस्ट एवं वेरीफाई सिस्टम की तर्ज पर ही नगर विकास विभाग ने गत वर्ष मार्च-अप्रैल माह में पूरे राज्य भर में इसे लागू करने की बात कही थी. सिस्टम के लागू होने के बाद नक्शा पास कराने वाले लोगों को मात्र 24 घंटे में ही घरों का नक्शा पास हो जाता. अधिकारी देखकर आदेश देते कि जो नक्शा बिल्डिंग बायलॉज के तहत बनाये गये हैं, उनका वेरिफिकेशन तत्काल हो जाए. सबसे बड़ी बात तो यह थी कि जांच के दौरान सिस्टम का सॉफ्टवेयर बता देता कि नक्शा में कहां गड़बड़ी है. अगर नक्शा में कोई गड़बड़ी नहीं होती तो तत्काल ही नक्शा को निगम द्वारा सशर्त स्वीकृति दे दी जाती. बाद में नक्शा पास होने के बाद निगम के असिस्टेंट इंजीनियर, टाउन प्लानर और पदाधिकारी साइट पर जाकर नक्शा के तकनीकी पहलुओं और कागजात की जांच करते. अगर इस दौरान नक्शा में कोई कागजात गलत पाया जाता या आवेदक बिल्डिंग बायलॉज का उल्लंघन करते मिलते, तो तत्काल ही टीम के अधिकारी नक्शा को रद्द कर घर बनाने वालों पर भारी जुर्माना लगाते.

इसे भी पढ़ें- सीडब्ल्यूसी का बड़ा खुलासा : अविवाहित गर्भवती लड़कियों को निर्मल हृदय में मिलता है आश्रय, बच्चा होने पर बेच दिया जाता है उसे

नक्शा पास कराने में लग रहा चार से पांच महीने का वक्त

सिस्टम के लागू नहीं होने के कारण आज भी शहरवासियों को नक्शा पास कराने में परेशानी हो रही है. निगम से जुड़े कुछ लोगों का कहना है कि अगर सिस्टम लागू हो जाता तो शायद नक्शा पास कराने में निगम को काफी सहूलियत होती. लेकिन स्थिति यह है कि आज भी नक्शा पास कराने में लोगों को चार से पांच महीने का समय लग रहा है.

प्रक्रिया अभी अंतिम चरण में, जल्द शुरू होगा सिस्टम : टाउन प्लानर

mi banner add

मामले को लेकर रांची नगर निगम के टाउन प्लानर उदय सहाय का कहना है कि अभी सॉफ्टवेयर का ट्रायल रन किया गया है. पूरी प्रक्रिया अभी अंतिम चरण है. जल्द ही इसे लागू करने का काम किया जाएगा. नक्शा पास कराने की प्रक्रिया को लेकर उनका कहना था कि पास करने की ऑनलाइन प्रक्रिया वर्ष 2016 में ही निगम ने लागू किया था. ट्रस्ट एवं वेरीफाई सिस्टम इसी का अगला चरण है. इसे लागू होने के बाद आम लोगों को नक्शा पास कराना आसान हो जाएगा.

इसे भी पढ़ें- आखिरकार चालू हो ही गया कांके स्थित स्लॉटर हाउस, अब लोगों को मिलने लगा हाइजीनिक मीट

नगर विकास मंत्री भी है सिस्टम चालू नहीं होने से अनभिज्ञ

सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि स्वंय नगर विकास विभाग के मंत्री सीपी सिंह को जानकारी दी गयी है कि सिस्टम को लागू कर दिया गया है. जब उन्हें न्यूज विंग के रिपोर्टर ने बताया कि अभी यह सिस्टम चालू नहीं हुआ है तो उनका बयान था कि यह मामला पूरी तरह से नगर निगम के अधीन है. अगर यह सिस्टम चालू नहीं है तो विभाग के अधिकारी जल्द ही मामले को देखगें, ताकि सिस्टम को चालू कराया जा सके.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: