World

पाकिस्तान के बाद बांग्लादेश में कट्टरपंथियों ने बोला हमला, 50 हिंदू घरों और कई मंदिरों को तोड़ा

Desk: पाकिस्तान के बाद अब बांग्लादेश में कट्टरपंथियों ने अल्पसंख्य हिंदू समुदाय पर हमला हुआ है. इस दौरान मंदिरों को निशाना बनाया गया. इसके अलावा हिंदुओं के कई घरों को आग के हवाले कर दिया गया और लूटपाट भी की गई. इस घटना के विरोध में हिंदू-बौद्ध गठबंधन संयुक्त राज्य अमेरिका ने अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न के विरोध में मानव श्रृंखला बनाकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई और अल्पसंख्यकों के लिए सुरक्षा की मांग की है. बांग्लादेश हिंदू यूनिटी काउंसिल ने अपने ट्विटर हैंडल पर इसकी जानकारी दी.

 

घटना बांग्लादेश के खुलना जिले के रूपशा उपजिला के शियाली गांव की है. बताया जा रहा है कि शनिवार यानी 7 अगस्त को जिले के सियाली गांव में अल्पसंख्य हिंदू समुदाय के महिला श्रद्धालुओं के एक समूह ने पूर्व पारा मंदिर से शियाली श्मशान घाट तक जुलूस निकाला था. उन्होंने रास्ते में एक मस्जिद पार की थी, इस दौरान मस्जिद के मौलवी ने हिंदू धार्मिक जुलूस का विरोध किया. इसके बाद कट्टरपंथियों की एक भीड़ आक्रोशित हो गई और शनिवार शाम को गांव के हिंदू घरों पर हमला कर दिया.

मौके पर मौजूद लोगों के हवाले से मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि गुस्साई भीड़ में कथित तौर पर आसपास के गांवों के मुसलमान शामिल थे. हमलावरों ने कुल्हाड़ी और दूसरे हथियारों का इस्तेमाल हमले के दौरान किया था. इस दौरान विरोध करने वाले कई हिंदू घायल हो गए. फिलहाल स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और कानून प्रवर्तन मामले की जांच कर रहा है.

  

पुलिस ने कई हिंदू मंदिरों, घरों और दुकानों में तोड़फोड़ के संबंध में दर्ज मामले में अभी तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया है. स्थानीय समुदाय के नेताओं का कहना है कि क्षेत्र में पहली बार किसी सांप्रदायिक हिंसा की खबर मिली है. पुलिस के मुताबिक शनिवार शाम करीब पांच बजकर 45 मिनट पर करीब 100 हमलावर गांव पहुंचे. उन्होंने गांव के हिंदू समुदाय के 50 घरों में तोड़फोड़ की और चार मंदिरों को उजाड़ दिया.

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: