Khas-KhabarNational

पत्नी और तीन बच्चों की हत्या कर सनकी जीजा ने साले को फोन कर कहा- उठवा लो शव

Ghaziabad: गाजियाबाद में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है. इलाके के ज्ञान खण्ड-4 में एक इंजीनियर ने अपनी पत्नी और तीन बच्चों की गला रेतकर निर्ममता से हत्या कर दी. इतना ही नहीं हत्या करने के बाद अपने साले को उसने फोन किया और कहा कि फ्लैट में लाशें पड़ी हैं उठवा लो.

मिली जानकारी के मुताबिक, 37 वर्षीय सुमित बैंग्लुरू में एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर काम करता था. लेकिन कुछ दिनों पहले ही उसने नौकरी छोड़, ज्ञानखण्ड स्थिति फ्लैट में रहने लगा था. उसके परिवार में पत्नी अंशुबाला(35), बेटा प्रथमेश(6) और जुड़वा बेटा-बेटी आरव और आकृति(4) थे. अंशुबाला प्राइवेट स्कूल में टीचर थी. सुमित ने अपने ही हाथों परिवार के सभी सदस्यों की हत्या कर दी.

इसे भी पढ़ेंःबेगूसराय: कन्हैया के समर्थकों और ग्रामीणों में झड़प, लोगों को घर में घुसकर पीटा

advt

रात भर फ्लैट में पड़ा रहा शव

नवभारत टाइम्स की खबर के अनुसार सुमित ने अपने बीवी-बच्चों की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी और इसके बाद देर रात तक शव के साथ फ्लैट में ही रहा. खबर है कि अहले सुबह तीन बजे वह फ्लैट छोड़कर फरार हो गया.

अबतक की जांच में पुलिस को पता चला है कि आरोपी ने सबसे पहले अपनी पत्नी की हत्या कि इसके बाद सो रहे जुड़वा बच्चों की और आखिरी में प्रथमेश की भी गला रेतकर हत्या कर दी.
पुलिस का मानना है कि आरोपी ने किसी टीवी सीरियल से प्रभावित को हत्या का यह तरीका अपनाया है.

खर्च उठाने लायक नहीं इसलिए कर दी हत्या

सूत्रों के मुताबिक वायरल हुए वीडियो में आरोपी शख्स कह रहा है कि परिवार की जिम्मेदारी उठाने लायक नहीं है. और नौकरी छूटने के बाद उसपर आर्थिक बोझ बढ़ गया है.

इसे भी पढ़ेंःदफनाने के दस दिन बाद कब्र से निकाला गया शव, होगा पोस्टमार्टम, पत्नी ने जताई थी हत्या की आशंका

adv

वीडियो में वो अपने साले से कह रहा है कि उसने पूरे परिवार की हत्या कर दी है और खुद भी मरने जा रहा है. साथ ही कहा कि फ्लैट के अंदर शव पड़े हैं, जाकर उन्हें उठा लो.

खबर ये भी है कि पूरे परिवार की हत्या करने के बाद आरोपी ने घटना को लूटपाट के दौरान हुई हत्या का रूप देने की कोशिश की. लेकिन सफल नहीं रहा और फरार हो गया.

पुलिस का मानना है कि सुमित ने आत्महत्या नहीं की होगी, क्योंकि अगर उसे अपने किए पर वाकई पछतावा होता तो वह पत्नी और बच्चों की हत्या के बाद खुद को भी खत्म कर लेता.

इसे भी पढ़ेंःश्रीलंका सीरियल ब्लास्टः मरने वालों की संख्या हुई 290, एयरपोर्ट के पास मिला एक और बम

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button