1st LeadCrime NewsJamshedpurJharkhandNEWS

जमशेदपुर : बोड़ाम में दलमा आंचलिक सुरक्षा समिति के नेता परमेश्वर सिंह की हत्या कर शव को पेड़ से लटकाया, नक्सलियों के निशाने पर थे

Patamda : नक्सलियों के विरुद्ध आंदोलन में मुख्य भूमिका निभाने वाले बोड़ाम थाना क्षेत्र के कोयरा टोला जोजराडीह निवासी परमेश्वर सिंह की लाश गुरुवार की सुबह एक पेड़ से लटकी पाये जाने से इलाके में सनसनी फैल गयी है. आमझोर गांव के टोला काशीडीह में नाला के पास छागलदह नामक पलाश के जंगल में एक बेल के पेड़ पर लटकी लाश को पुलिस ने दोपहर करीब 1 बजे बरामद किया. शव की सूचना पाकर वहां सैकड़ों की संख्या में भीड़ जमा हो गयी.  पटमदा डीएसपी सुमित कुमार व थाना प्रभारी शंकर लकड़ा ने उपस्थित  लोगों को उचित जांच व कार्रवाई का भरोसा देते हुए लाश को पोस्टमार्टम के लिए एमजीएम अस्पताल भेज दिया है.

जमा ग्रामीण और इनसेट में पेड़ पर लटका शव.

अविवाहित और करीब 45 वर्षीय परमेश्वर सिंह पेशे से राजमिस्त्री थे और पिछले करीब 13 वर्षों से अपने घर से बाहर यहां-वहां ही रहते थे. उनके बड़े भाई विश्वनाथ सिंह ने बताया कि परमेश्वर पिछले करीब 5 वर्षों से आमझोर के काशीडीह टोला में गोहन सिंह के घर पर ही रहते थे और क्षेत्र में राजमिस्त्री का काम करने के साथ ही कभी-कभी उनके घर का भी काम कर देते थे.  नक्सलियों के टारगेट में होने की वजह से वह घर पर नहीं रहते थे. तीन भाइयों में परमेश्वर छोटे थे.  बड़े भाई विश्वनाथ सिंह एवं दूसरे भाई मनोहर सिंह का परिवार है.  तीनों भाइयों में आपसी मेल व प्रेम था. पटमदा डीएसपी ने मामले की छानबीन शुरू करते हुए दलमा आंचलिक सुरक्षा समिति के दोनों गुटों से जुड़े नेताओं से पूछताछ की है. गांव के अन्य लोगों से भी परमेश्वर सिंह की किसी से दुश्मनी या अन्य जानकारी की पड़ताल की जा रही है. घटनास्थल पर पहुंचे समिति के जलन मार्डी, रामकृष्ण महतो, अधर सिंह, कांचन सिंह, अजय सिंह, पद्मलोचन सिंह, नेपाल सिंह, सुकदेव सिंह, लक्ष्मण सिंह सरदार आदि ने पुलिस से मांग की  है कि इस घटना में शामिल आरोपियों को चिन्हित कर जल्द से जल्द कार्रवाई की जाये.

Catalyst IAS
ram janam hospital

डीएसपी ने कहा कि इस हत्या की घटना को नक्सलियों ने नहीं, बल्कि किसी अज्ञात लोगों ने ही अंजाम दिया होगा. बताते हैं कि बुधवार की रात को ही उसकी हत्या के बाद एक धोती पहनाकर उसी धोती के सहारे शव को पेड़ की डाली पर लटका दिया गया था. उसके शरीर पर किसी गहरे जख्म का निशान नहीं है. लेकिन गुप्तांग से खून निकल रहा था. प्रथमदृष्टया आघात लगने की जांच करने पर कोई वैसी चोट नहीं दिखायी दी.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें – हथियारबंद अपराधियों ने ज्वेलरी दुकान से एक करोड़ के गहने लूटे, 3 लोगों को किया घायल

Related Articles

Back to top button