Education & CareerJharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

शिक्षक नियुक्ति नियमावली को स्वीकृति मिलने के बाद शिक्षा विभाग रेस, चयन परीक्षा को लेकर तैयारियां हुई शुरू

Ranchi : राज्य में प्राथमिक स्कूल से लेकर प्लस टू स्कूलों में रिक्त पदों को भरने की कवायद शुरू हो चुकी है. विभिन्न श्रेणी के स्कूलों में नियुक्ति के लिए बनायी गयी नियमावली को स्वीकृति मिलने के साथ ही शिक्षा विभाग चयन परीक्षा/मूल्यांकन परीक्षा के आयोजन को लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं. विभाग की ओर से तैयार की जा रही चयन परीक्षा के स्वरूप के आधार पर झारखंड कर्मचारी चयन आयोग इस परीक्षा का आयोजन करेगी.

इसे भी पढ़ें : रांची : बरहे में ही बनेगा एकलव्य विद्यालय, ग्रामसभा में बनी सहमति

प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए देनी होगी परीक्षा

राज्य के प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए लिखित परीक्षा देनी होगी. इन स्कूलों में पारा शिक्षकों के लिए 50 फीसदी सीट हैं. पर इन्हें भी सहायक शिक्षक बनने के लिए टेट पास होने के बाद एक लिखित परीक्षा से गुजरना होगा.

नियुक्ति नियमावली की शर्तें होंगी अहम

शिक्षा मंत्री जगरनात महतो की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक राज्य सरकार के निर्णय के तहत प्राथमिक और मध्य विद्यालय में शिक्षक नियुक्ति के लिए अभ्यर्थियों का झारखंड में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा पास होना अनिवार्य होगा. यह शर्त शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी टेट के अनुसार है.  सरकार के प्रावधान के तहत आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए यह प्रावधान शिथिल होगा. स्कूलों में नियुक्त जिला रोस्टर के आधार की जाएगी.

वर्ष 2015-16 नियुक्ति में हुई थी गड़बड़ियां

गौरतलब है कि राज्य के प्राथमिक व मध्य विद्यालयों में वर्ष 2015-16 में नियुक्ति हुई थी. उस दौरान टेट सफल अभ्यर्थियों की सीधी नियुक्ति ली गई थी .जिला स्तर पर इस नियुक्ति में कई गड़बड़ियां सामने आई थी .फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर भी नियुक्त किए जाने का मामला सामने आया था. इसी को देखते हुए नियमावली में बदलाव करते हुए टेट पास सफल अभ्यर्थियों के लिए एक परीक्षा आयोजित कर ही रिक्त पदों पर नियुक्ति की जाएगी.

इसे भी पढ़ें : जांच में देरी से बच रहे आरोपी बीडीओ, इंजीनियर

Advt

Related Articles

Back to top button