ChatraJharkhand

पांच माह बाद ऐतिहासिक मां भद्रकाली मंदिर का आम श्रद्धालुओं के दर्शन-पूजन के लिए खुला कपाट

Chatra: ऐतिहासिक भद्रकाली मंदिर भगवान गौतम बुध की आराध्य व सनातन धर्मावलंबियों के आस्था की प्रतीक करुणामयी माता भद्रकाली का कपाट आम श्रद्धालुओं के लिए झारखंड सरकार के दिशा निर्देश पर शुक्रवार 17 सितंबर के संध्या 4:30 बजे दिन को विधिवत खोल दिया गया.

मंदिर प्रबंधन सचिव राम विनय शर्मा व बीडीओ साकेत कुमार सिन्हा समेत मंदिर मुख्य पुजारी नागेश्वर तिवारी प्रबंधन सदस्य रतन शर्मा सेवा निवृत शिक्षक बद्री चौरसिया, मृत्युंजय कुमार सिंह, सुरेंद्र सिंह, सुधीर राय, जितेंद्र दांगी, नागेश्वर यादव, रंजीत सिंह आदि सदस्यों ने संयुक्त रुप से कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए सबसे पहले माता का पाठ खुलवाया बाद में सभी लोगों ने एक साथ माता का दर्शन किया.

इसे भी पढ़ें: बारिश ने खोली रांची नगर निगम की पोल, स्टेशन से लेकर क्वार्टर तक पानी-पानी

advt

जहां मंदिर के पुजारी नागेश्वर तिवारी, कामेश्वर तिवारी, गंगा पांडे प्रमोद पांडे, रामप्रवेश पांडे तथा अन्य पुजारियों ने सचिव व बीडीओ को माता का चुनरी प्रसाद रूप में भेंट किया.

कपाट खुलने की सूचना के बाद माता के भक्तों के अलावा माता मंदिर में जुड़े लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई. वही दुकानदार और पुजारियों से मंदिर के बारे में पूछा गया तो वह हर्ष उल्लास के साथ उन्होंने बताया कि मंदिर करीबन 5 महीने से बंद थी. और हम लोगों का और हमारे परिवार का भरण पोषण इस मंदिर के द्वारा ही होता है.

adv

इसे भी पढ़ें:जेपीएससी की परीक्षा से पहले  स्टूडेंट्स को कराना होगा कोविड और बुखार का टेस्ट

यह मंदिर बंद होने से हमारी आर्थिक स्थिति बहुत दयनीय हो गई थी परंतु जब हमें पता चला कि शुक्रवार को संध्या 4:30 बजे मंदिर खुलने वाली है तो हमारी खुशी का ठिकाना नहीं रहा.

कम से कम अब श्रद्धालु मंदिर में आना प्रारंभ करेंगे और हमारे घर परिवार फिर से खुशहाली की जीवन व्यतीत करेगा.

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के खिलाफ वार लड़नेवाले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद छोड़ी थी कांग्रेस

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: