न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Jamshedpur :  निष्कासन को लेकर जमशेदपुर भाजपा में भूचाल, बगावती सुर तेज, अमरप्रीत सिंह काले समेत कई दिल्ली पहुंचे

सतीश सिंह, रामकृष्ण दुबे, हरे राम सिंह, रतन महतो, असीम पाठक जैसे भाजपा संगठन में मजबूत पकड़ रखने वाले नेताओं पर कार्रवाई से बगावती तेवर काफी तेज है.

4,162

Jamshedpur : रांची से जारी भाजपा से निष्कासित सदस्यों की लिस्ट से जमशेदपुर भाजपा में भूचाल आ गया है. रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले सरयू राय और बड़कुंवर गगराई के खिलाफ कार्रवाई को जायज भले ही माना जा रहा हो,  लेकिन जमशेदपुर के कई ऐसे नेता हैं, जिनका निष्कासन उनको खुद नहीं पच रहा है. कई ऐसे नेता हैं जिनका दावा है कि उनके खिलाफ कोई ऐसे पुख्ता प्रमाण नहीं है कि वे भाजपा के खिलाफ काम कर रहे थे.

जान लें कि भाजपा के सुबोध श्रीवास्तव, रामनारायण शर्मा, डीडी त्रिपाठी और मुकुल मिश्रा जैसे नेताओं पर खुलकर चुनाव में बागी सरयू राय की मदद करने का आरोप लगा था, लेकिन दूसरी तरफ सतीश सिंह, रामकृष्ण दुबे, हरे राम सिंह, रतन महतो, असीम पाठक जैसे भाजपा संगठन में मजबूत पकड़ रखने वाले नेताओं पर कार्रवाई से बगावती सुर काफी तेज है. इनमें से कई नेताओं का यह मानना है ये कार्रवाई मुख्यमंत्री रघुवर दास के कहने पर पार्टी ने की है.

इसे भी पढ़ें :   #Dhanbad : ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पूर्णिमा नीरज सिंह के पक्ष में वोट मांगा, कहा, जनता झरिया से भाजपा को जरूर उजाड़ देगी

अमरप्रीत काले का नाम लिस्ट में शामिल

भाजपा के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता अमरप्रीत सिंह काले के खिलाफ की गयी कार्रवाई से मामला और गरमा गया है , क्योंकि वे किसी भी जगह खुलकर भाजपा के खिलाफ काम करते नजर नहीं आये. खबर तो यह भी आयी की लिस्ट जारी होते ही काले दिल्ली के लिए रवाना हो गये,

लेकिन दिल्ली से फोन पर बात करते हुए अमरप्रीत सिंह काले ने कहा है कि वो व्यक्तिगत काम से दिल्ली में हैं और लेकिन उनको निष्कासन की खबर मिल चुकी है. उनका कहना है बिना कारण बताओ नोटिस जारी किये निष्कासन हमलोगों के खिलाफ गलत फीडबैक दिये जाने का नतीजा है.  उन्होने उचित फोरम पर मसले को रखने की बात कही है.

इसे भी पढ़ें :  #JharkhandElection : आठ जिलों की 17 विधानसभा सीटों पर वोटिंग 12 को, 56 लाख मतदाता चुनेंगे अपने विधायक

भाजपा जिला कार्यालय खाली करे : रतन महतो

निष्कासन लिस्ट में शामिल रतन महतो ने यहां तक कह डाला कि उन लोगो को पार्टी से निकालने के बाद भाजपा को अपना जिला कार्यालय खाली करना होगा.  रतन महतो का कहना है कि  भाजपा का जिला-कार्यालय उन्होंने और उनके समर्थकों ने बनवाया है. जब उनको ही पार्टी से निकाल दिया गया तो फिर ये कार्यालय भाजपा का कैसे हो सकता है. इतना ही नहीं.  रतन महतो ने साकची भाजपा जिलाकार्यालय पहुंच कर सभी नेताओं से कार्यालय खाली करने की बात कह डाली. बता दें कि रतन महतो तीन बार जमशेदपुर भाजयुमो के जिला अध्यक्ष रह चुके है.

Sport House

सबकी निगाहें  केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा पर

राजनीतिक गलियारो में चर्चा है कि  निष्कासन की ये लिस्ट भाजपा के लिए सरदर्द साबित हो सकती है,  क्योंकि अमरप्रीत सिंह काले को केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा का मित्र माना जाता है. ऐसे में कार्यकर्ताओ में आक्रोश का माहौल है. इसीलिए सबकी निगाहें अर्जुन मुंडा पर टिक गयी है. कार्यकर्ताओ का साफतौर पर मानना है कि अर्जुन मुंडा राज्य में भाजपा के अनुभवी नेताओ में से एक हैं. वे  भाजपा के आला नेताओं को सही स्थिति से अवगत करा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : सरयू राय सामने आयें और रघुवर दास के भ्रष्टाचार को जनता के बीच लेकर पहुंचेः दीपंकर भट्टाचार्य

Mayfair 2-1-2020
SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like