Main SliderRanchi

बोकारो विधायक बिरंची का वीडियो वायरल होने के बाद बोकारो #BJP बैकफुट पर!

Ranchi : बोकारो के विधायक बिरंची नारायण का एक वीडियो वायरल हुआ है. वीडियो उनके निजी पलों के हैं. जिसमें वह अश्लील हरकत कर रहे हैं. देखने से यही प्रतीत होता है, कि वीडियो को उन्होंने खुद तैयार किया है. जिसे या तो उन्होंने खुद किसी को भेजा है, या किसी ने उनके मोबाइल से गायब करके वीडियो वायरल कर दिया.

बात चाहे जो भी हो, वीडियो वायरल होने के बाद चुनावी तैयारी में लगी बोकारो भाजपा बैकफुट पर आ गई है. शनिवार की शाम जैसे ही यह वीडियो वायरल हुआ. देखते ही देखते कुछ ही घंटो में बोकारो के लोगों के मोबाइल से लेकर रांची और दिल्ली तक पहुंच गया. वीडियो पर सब मजे ले रहे हैं.

पर, झारखंड भाजपा की फजीहत हो गई है. लोग कहने लगे हैं कि आज के भाजपा का यही चरित्र है. भाजपा अब कुलदीप सिंह सेंगर, चिन्मयानंद, ढ़ुल्लू महतो से लेकर बिरंची नारायण जैसे मानसिकता वाले लोगों की पार्टी बनती जा रही है.

इसे भी पढ़ें – #Politicalgossip: हे चुनाव देवता… आप जे ना कराये !

किस मुंह से वोट मांगने जायेंगे – बोकारो भाजपा

बोकारो भाजपा के लोगों का कहना है कि वह किस मुंह से वोट मांगने जायेगे. लोग वीडियो की तरफ इशारा करके पूछेंगे सच में बहुत विकास हो गया है.

इस पूरे मामले को लेकर लोग तरह-तरह की बातें करने लगे हैं. कोई कह रहा है कि बिरंची को पहले ब्लैकमेल किया गया. जब सफलता नहीं मिली तो वीडियो वायरल कर दिया गया. बिरंची नारायण को टिकट ना मिले, इसके लिए ठीक चुनाव से पहले वीडियो वायरल किया गया.

बहरहाल, विधायक बिरंची नारायण के वायरल वीडियो को लेकर पुलिस में ना तो एफआईआर दर्ज हुआ है. ना ही वीडियो के बाबत कोई सफाई दी है. भाजपा के नेता भी उस बारे में कुछ भी बोलने से इंकार कर रहे हैं. वैसे विरोधी दल के नेता यह दावा कर रहे हैं कि भाजपा के कुछ दूसरे विधायकों का भी वीडियो है. जो आने वाले दिनों में सामने आ सकता है.

पार्टी बैखफुट पर नहीं- प्रदेश प्रवक्ता

मामले पर न्यूज विंग ने बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव से बात की. उन्होंने कहा कि इस मामले पर उनकी बात बोकारो के विधायक बिरंची नारयण से हुई है. उन्होंने कहा है कि जैसे ही उन्हें इस वीडियो के बारे में जानकारी हुई है.

उन्होंने फौरन बोकारो डीसी और एसपी को फोन किया. फोन पर उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ कोई साजिश कर रहा है. इसलिए जांच की जाए कि ऐसा कौन कर रहा है. साथ ही कहा कि उन्हें चुनाव से पहले बदनाम करने के उद्देश्य से ऐसा किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – हॉट सीट बने चंदनक्यारी विधानसभा में आजसू के उमाकांत रजक आज चुनाव लड़ने की करेंगे घोषणा…सोच में भाजपा..

सार्वजनिक जीवन जीने वाले का निजी कुछ नहीं होताः रोहित लाल सिंह

मामले पर न्यूज विंग से बात करते हुए पूर्व जिलाध्यक्ष रोहित लाल सिंह ने कहा कि किसी एक व्यक्ति की वजह से पार्टी बैकफुट पर नहीं हो सकती है. पार्टी हमेशा फ्रंटफुट पर है. व्यक्ति विशेष मामले को लेकर पार्टी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने जा रहा है.

साथ ही उन्होंने कहा कि वीडियो मैंने देखा नहीं है. लेकिन अगर ऐसा कुछ है, तो निश्चित तौर पर पार्टी को इसपर संज्ञान लेना चाहिए. अंतिम निर्णय हमेशा से पार्टी का होता है. सार्वजनिक जीवन जीने वाले का निजी कुछ नहीं होता है. एक जनप्रतिनिधि जनता के लिए जीता है. उसका निजी कुछ नहीं रह जाता. उन्होंने कहा कि वीडियो में यदि जरा भी सत्ययता है तो पार्टी को इसपर विचार करना चाहिए.

जांच का विषय है कुछ भी कहना मुश्किलः जिलाध्यक्ष

मामले पर बोकारो के जिलाध्यक्ष विनोद महतो ने न्यूज विंग से कहा कि वायरल वीडियो जांच का विषय है. इसमें कुछ भी कहना मुश्किल है. पार्टी किसी भी सूरत में बैकफुट पर नहीं है.

विधायक ने शिकायत की है, एफआईआर नहीं हुआ हैः डीसी

इस मामले पर डीसी ने बताया कि वीडियो वायरल होने के बाद विधायक बिरंची नारायण जी ने शिकायत दर्ज करायी है. जिसकी हमलोग जांच कर रहे हैं. पुलिस अधीक्षक महोदय से कहा गया है कि जिसने भी ऐसा किया है, जांच कर उसका पता लगाया जाए.

साथ ही उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द वो चिन्हित किया जाएगा. अभी तक कोई एफआईआर नहीं हुआ है. लेकिन पुलिस अपना काम कर रही है. जल्द ही किसी नतीजे पर पहुंचेंगे.

नोटः न्यूज विंग वायरल वीडियो की प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं करता.

इसे भी पढ़ें – ‘न खाऊंगा न खाने की दूंगा’ की बात करनेवालों की यह असलियत यदि आप पढ़ेंगे तो समझ जायेंगे कि यह दावा कितना बड़ा झूठ था, बशर्ते आप अंधभक्त न हों!

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: