न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बंधु के बाद बाबूलाल ने किया प्रदीप यादव को पार्टी से बाहर करने का रास्ता साफ, थमायी नोटिस

548

Ranchi: बाबूलाल मरांडी ने जेवीएम को बीजेपी में विलय करने के बीच आड़े आ रहे प्रदीप यादव को किनारे करने की ओर कदम बढ़ाया है. बंधु तिर्की को पार्टी से बाहर करने के बाद अब जेवीएम के प्रधान महासचिव ने दूसरे विधायक प्रदीप यादव को नोटिस थमाया है. नोटिस में कहा गया है कि प्रदीप यादव ने पार्टी के खिलाफ अखबारों में बयानबाजी की है.

साथ ही सीएए और एनआरसी को लेकर पार्टी लाइन से अलग काम किया है. प्रदीप यादव ने सीएए के खिलाफ मंच से जनता के बीच भाषण दिया है. जबकि इन मामलों पर पार्टी का पक्ष अभी तक साफ नहीं है. इन्हीं सभी तमाम मुद्दों को लेकर पार्टी की तरफ से प्रदीप यादव को नोटिस थमाया गया है.

नोटिस में इस बात का भी उल्लेख है कि प्रदीप यादव और बंधु तिर्की दोनों ही दिल्ली में कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात की है. तमाम बातों को आधार मान पार्टी की तरफ से प्रदीप यादव से 48 घंटे के अंदर जवाब मांगा गया है. जाहिर है ऐसा प्रदीप यादव को पार्टी से बाहर किए जाने के लिए किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – बिजली विभाग में भ्रष्टाचारः वर्क ऑर्डर मिलने से पहले ही एजेंसी ने बनहर्दी कोल ब्लॉक में ड्रिलिंग कर दी थी शुरू

hotlips top

बंधु तिर्की को पार्टी से निकालना एक राजनीतिक स्टंट

बाबूलाल मरांडी ने कार्यसमिति को भंग कर दोनों विधायकों से पार्टी का हर पद छीन लिया. अब वो एक साधारण विधायक थे. चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी काम करने का आरोप लगाकर बंधु को पार्टी से बाहर किया.

जिसके बाद प्रदीप यादव और बंधु तिर्की एक साथ राजनीतिक समीकरण बनाते दिखे बंधु और प्रदीप ने मीडिया के सामने दसवीं अनुसूची के कानूनों का हवाला देते हुए, यह बताया कि बंधु तिर्की को पार्टी से निकालने के बावजूद बाबूलाल जेवीएम का विलय बीजेपी में नहीं कर सकते. लेकिन दूसरे दिन ही सोनिया और राहुल के साथ उनका फोटो वायरल हुआ.

30 may to 1 june

कांग्रेस की शरण में जाने के बाद दोनों विधायकों का जेवीएम का बीजेपी में विलय का विरोध अपने-आप ठंडे बस्ते में चला गया. दूसरी तरफ बाबूलाल भी अब आसानी से अपनी सेना के साथ बीजेपी में विलय कर सकते हैं. अब पार्टी प्रदीप यादव को बाहर करने की तैयारी में. जल्द ही जेवीएम का बीजेपी में विलय देखा जा सकता है.

इसे भी पढ़ें – #Bihar में जारी है पोस्टर वारः RJD के पोस्टर में कुर्सी से बंधे दिखें नीतीश कुमार और डूबता हुआ बिहार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like