न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अनुराग गुप्ता के बाद कई IAS और IPS अधिकारी निर्वाचन आयोग के रडार पर, मांगी रिपोर्ट

5,369

Akshay/Ravi

Ranchi: IPS अनुराग गुप्ता को झारखंड से दिल्ली भेजे जाने के बाद कई IAS और IPS अधिकारियों पर गाज गिर सकता है. ये वो अधिकारी हैं जिनकी शिकायत राजनीतिक पार्टियों ने निर्वाचन आयोग से की थी. निर्वाचन आयोग की तरफ से सरकार को उन अधिकारियों की लिस्ट भेज दी गयी है, जिनकी शिकायत आचार संहिता लगने के बाद निर्वाचन आयोग से की गयी थी. लेकिन ऐसे में सवाल उठ रहा है कि आखिर शिकायत होने के तत्काल बाद ही इन अधिकारियों की जांच रिपोर्ट निर्वाचन आयोग ने क्यों तलब नहीं की. निर्वाचन आयोग की लिस्ट आते ही सरकार के कई विभाग IAS और IPS की रिपोर्ट तैयार करने में जुट गए. गृह विभाग, कार्मिक से लेकर पुलिस महकमा भी कागजी कार्यवाही करने में जुटा रहा. वहीं सरकार की तरफ से स्पेशल ब्रांच के एडीजी के लिए तीन नामों का पैनल निर्वाचन आयोग को भेज दिया गया है. इनमें तदाशा मिश्रा, अजय कुमार सिंह और ए नटराजन के नाम बताये जा रहे हैं. इन नामों की सरकार की तरफ से किसी अधिकारी ने पुष्टि नहीं की.

Trade Friends

इसे भी पढ़ें – हेमंत सोरेन का स्थायी पता पूछनेवाली बीजेपी पर जेएमएम का पलटवार, कहा ‘खौफ में भाजपा नेता, कर रहे मूर्खतापूर्ण सवाल’

किन अधिकारियों की हो रही है रिपोर्ट तैयार

इन अधिकारियों में सबसे ज्यादा वो अधिकारी हैं, जिन पर बड़कागांव बनाम एनटीपीसी कांड में संलिप्तता का आरोप लगा था. इनमें हजारीबाग डीसी रवि शंकर शुक्ला, पूर्व एसपी पंकज कंबोज, डीएसपी रैंक के अधिकारी अनिल कुमार सिंह, कुलदीप कुमार, शैलेश कुमार सिंह, नारायण विज्ञान प्रभाकर, अकील अहमद, प्रदीप पाल कच्छप, राजीव कुमार सिंह, अखिलेश कुमार सिंह, सुदामा दास, परमानंद कुमार महरा, मुनीब राम, टीसीजी कृष्णा, अलगप्पन सुब्रह्मन्यम, प्रदीप सिंह, राहुल कुमार, एमएम अंसारी, शैलेश पासवान, परमीला कुमारी, कृष्णा प्रसाद सिंह, सनातन सुरी, बिकेस कुमार पासवान, कुंदन कुमार रजक, प्रमोद कुमार सिंह और गुड्डु कुमार भोग्ता शामिल हैं.

WH MART 1

इसे भी पढ़ें – पिछले पांच वर्षों में देश ने की है बहुत तरक्की, जल्द होंगे विकसित देशों की श्रेणी में शामिल : डॉ शास्वत

डीजीपी डीके पांडेय के खिलाफ शिकायत

झारखंड में विपक्षी पार्टियों ने निर्वाचन आयोग से कई अधिकारियों के विरुद्ध शकायत की है. इनमें जेएमएम, जेवीएम और कांग्रेस शामिल हैं. कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से 23 मार्च,  जेवीएम ने 12 मार्च और जेएमएम ने 28 मार्च को शिकायत की थी. चुनाव आयोग की तरफ से सिर्फ स्पेशल ब्रांच के एडीजी अनुराग गुप्ता पर कार्रवाई की है. सबसे ज्यादा गौर करनेवाली बात यह है कि झारखंड के वर्तमान डीजीपी डीके पांडेय के खिलाफ भी राजनीतिक दल की तरफ से निर्वाचन आयोग को शिकायत की गयी है. उनका नाम बकोरिया कांड से जोड़ते हुए आरोप लगाया जा रहा है. फिलहाल निर्वाचन आयोग ने श्री पांडेय की रिपोर्ट मंगायी है या नहीं स्थिति स्पष्ट नहीं है.

इसे भी पढ़ें – खूंटी में भय मुक्त चुनाव संपन्न कराये आयोग: जनाधिकार महासभा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like