न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तेजस्वी का बंगला खाली कराने पहुंचा प्रशासन, धरने पर बैठे राजद के नेता

23

Patna: तेजस्वी यादव का बंगला खाली कराने पहुंचे प्रशासन को बेरंग लौटना पड़ा. बंगले पर गहराते विवाद के बीच बुधवार को प्रशासन की टीम तेजस्वी के बंगले 5, देशरत्न मार्ग पर पहुंची. लेकिन बंगला खाली नहीं करवा सकी. बंगला ख़ाली कराने को लेकर आरजेडी नेताओं ने विरोध जताया और बंगले के बाहर धरने पर बैठ गए, जिसके बाद सरकारी अमले को लौटना पड़ा. तेजस्वी के बंगले के गेट पर ताला लटका हुआ और एक नोटिस लगा है. जिस पर लिखा है, मामला कोर्ट में है, इसलिए बंगला ख़ाली करने का दबाव न डालें. गौरतलब है कि तेजस्वी हाईकोर्ट के सिंगल बेंच के फैसले को चुनौती देते हुए डबल बेंच में अर्जी लगाई है.

हाईकोर्ट में मामला पेंडिंग

ज्ञात हो कि डेढ़ साल पहले महागठबंधन टूटने के बाद जेडीयू के हाथों से सत्ता निकल गई. जिसके बाद बिहार सरकार के भवन निर्माण विभाग ने तेजस्वी यादव को उप मुख्यमंत्री के तौर पर आवंटित बंगला खाली करने को कहा था. सरकार ने तेजस्वी को नेता प्रतिपक्ष के तौर पर 1, पोलो रोड का बंगला आवंटित किया, जहां फिलहाल उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी रहते हैं.

उल्लेखनीय है कि भवन निर्माण विभाग ने बंगला 5, देशरत्न मार्ग जिसमें फिलहाल तेजस्वी यादव रह रहे हैं, उसे सुशील मोदी को उपमुख्यमंत्री के तौर पर आवंटित कर दिया है. लेकिन पिछले डेढ़ साल में तेजस्वी यादव ने बंगला खाली नहीं किया है. बंगले की ये लड़ाई पटना हाईकोर्ट तक चली गई.हालांकि, कोर्ट ने बिहार सरकार के पक्ष में फैसला सुनाते हुए तेजस्वी यादव को बंगला तुरंत खाली करने का फरमान सुनाया.

लेकिन पटना हाईकोर्ट के इस आदेश को जारी किये भी तकरीबन 2 महीने का वक्त बीत चुका है, लेकिन अब तक उन्होंने इसे खाली नहीं किया है. सिंगल बेंच के फैसले के खिलाफ तेजस्वी ने डबल बेंच में अपील की है. इससे पहले तेजस्वी नीतीश कुमार को पत्र लिख चुके हैं. तेजस्वी कई बार बोल चुके हैं कि आख़िर उन्हें बंगले से बेदख़ल करने की जल्दबाज़ी क्यों दिखायी जा रही है?

इसे भी पढ़ेंःवाहन एक लाख-टेस्टिंग की क्षमता 38 हजार सालाना, कैसे मिलेगा फिटनेस सर्टिफिकेट?

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: