DhanbadJharkhandLead NewsNEWSRanchiTOP SLIDER

ADJ उत्तम आनंद केस: गिरफ्तार लखन और राहुल का नार्को टेस्ट करवा सकती है पुलिस

मामले में अब तक 243 संदिग्धों से हो चुकी है पूछताछ, 17 की हुई है गिरफ्तारी

Ranchi: झारखंड के धनबाद में एडीजे उतम आनंद की मौत के मामले में गिरफ्तार ऑटो चालक लखन और राहुल को रिमांड पर लेने के बाद पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है. लेकिन, मौत मिस्ट्री को नहीं सुलझ सकी है. दोनों अब तक एक ही बात दोहरा रहे हैं कि शराब के नशे में हादसा हो गया. पुलिस उनके जवाब से सहमत नहीं है. माना जा रहा है कि दोनों पुलिस को सहयोग नहीं कर रहे हैं. ऐसे में धनबाद पुलिस ऑटो चालक लखन उसका सहयोगी राहुल और ऑटो का मालिक रामदेव विश्वकर्मा का नार्को टेस्ट करवा सकती है. सूत्रों के अनुसार धनबाद पुलिस डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नार्को टेस्ट करवाने को लेकर आवेदन कर सकती है.

इसे भी पढ़ेंःRims News: दो साल में होना था निर्माण, सात साल हो गए, बजट बढ़कर 39 से हो गया 64 करोड़

advt

धनबाद में एसआईटी की बैठक चल रही है. सूत्रों के हवाले से खबर है बैठक में नार्को  टेस्ट करवाने पर सहमति बनी तो एसआईटी कोर्ट में  प्रे कर सकती है.जानकारी के अनुसार गिरफ्तार तीनों व्यक्ति पुलिस के कई सवालों से बच रहे है. उन तीनों के जवाब से संदेह गहरा रहा है. यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है कि जज की मौत हादसा है या हत्या.

 

बता दें कि धनबाद में एडीजे उत्तम आनंद की 28 जुलाई को संदिग्ध मौत हो गई थी. जज सुबह मॉर्निंग वॉक कर रहे थे. इसी दौरान एक ऑटो ने पीछे से आकर उन्हें टक्कर मार दिया था जिसके बाद वे वहीं पर गिर गए. स्थानीय लोगों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया. जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. टक्कर के बाद उनके सिर और कान पर गंभीर चोट आई थी.

इसे भी पढ़ेंःTokyo Olympics: हॉकी में भारत की बेटियों ने भी रचा इतिहास, पहली बार सेमीफाइनल में पहुंची

बता दें कि इस मामले में झारखंड पुलिस के एडीजी संजय आनंद लाटकर के नेतृव में बनी एसआईटी इसकी जांच कर रही है. धनबाद पुलिस के साथ मिलकर एसआईटी की टीम तकनीकी पहलुओं पर जांच कर रही है. एडीजे उत्तम आनंद ने बीते कुछ माह में किन किन अपराधियों, गैंग के खिलाफ उन्होंने सुनवाई की थी, उसमें शामिल लोगों के बारे में भी जानकारी जुटायी जा रही है. वहीं, मामले में तकनीकी साक्ष्य जुटाने के लिए गिरफ्तार आरोपियों के मोबाइल की सीडीआर, कॉल डंप कर खंगाल रही है

 

एसएसपी संजीव कुमार ने बताया कि शहर के विभिन्न थाना थाना क्षेत्रों में 243 संदिग्धों को पकड़ा, जिससे पूछताछ की गई. इसमें 17 संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार संदिग्धों के ऊपर अलग-अलग थानों में प्राथमिकी दर्ज है. उन्होंने बताया कि 53 होटलों में छापेमारी कर जांच-पड़ताल की गई है. इसके साथ ही 250 ऑटो के कागजात की जांच की जा रही है. एसएसपी ने बताया कि बड़े अपराधियों और जेल में बंद कैदियों से भी पूछताछ की गई है. गिरफ्तार रामदेव  से पुलिस पूछताछ कर रही है ताकि अहम सुराग मिल सके.

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: