Jamshedpur

दो दिन से लापता आदित्यपुर के ट्रांसपोर्टर संतोष पांडेय ने घरवालों से की बात, कहा-लखनऊ में हूं

Jamshedpur :  दो दिन से लापता आदित्यपुर उमा पैलेस रोड नंबर-3 के रहने वाले ट्रांसपोर्टर संतोष पांडेय (42) लखनऊ में हैं. सूत्रों के अनुसार उन्होंने घर पर फोन कर अपने लखनऊ में होने की जानकारी दी है. फिलहाल यह पता नहीं चल सका है कि वे किन हालात में लखनऊ पहुंचे. लापता होने के पहले उन्होंने शहर के एक बार से घरवालों को कॉल कर शाम तक घर आने की बात कही थी. वह कॉल भी दूसरे के मोबाइल से किया गया था. बहरहाल उनके सकुशल होने की खबर से घरवालों ने चैन की सांस ली है.

बता दें कि दो दिन पहले संतोष घर से यह कहकर निकले थे कि एग्रीमेंट पेपर पर हस्ताक्षर करवाने के लिए जा रहे हैं. उसके बाद से वे अपने घर नहीं लौटे हैं. खोजबीन के क्रम में परिवार के लोगों ने संतोष पांडेय की स्कूटी को कदमा स्थित देबु मुखर्जी के घर के पास देखा. इसके बाद परिवार के लोगों ने इसकी जानकारी कदमा थाने में दी. इसके बाद पुलिस ने स्कूटी को जब्त कर लिया है और मामले की जांच में जुट गई है.

कदमा के देबु मुखर्जी के घर गए थे संतोष

संतोष के परिवार के लोगों ने बताया कि 21 सितंबर तो संतोष  पांडेय कदमा के रहने वाले देबु मुखर्जी के घर पर एग्रीमेंट पेपर पर हस्ताक्षर करवाने के लिए गए हुए थे. इसके बाद से वे घर नहीं लौटे हैं.

दूसरी मोबाइल से घर पर किया था फोन

संतोष पांडेय ने 21 सितंबर को दिन के 3 बजे के आस-पास  दूसरे नंबर से फोन किया था. उस वक्त वह किसी बार में बैठे थे. उन्होंने कहा  कि वे शाम तक घर लौट आयेंगे. शाम 6  बजे तक जब वे नहीं लौटे, तब परिवार के लोगों ने उनकी खोज-बीन शुरू की. इस क्रम में ही 22 सितंबर को उनकी स्कूटी को देबु मुखर्जी के घर के सामने देखा. हालांकि देबु मुखर्जी से पुलिस द्वारा पूछताछ किये जाने की सूचना नहीं है.

बार का एक लड़का हिरासत में

जब परिवार के लोगों ने पुलिस को सारी कहानी बताई, तब पुलिस ने उस बार में काम करनेवाले लड़कों को हिरासत में लेकर पूछताछ की. इस दौरान एक लड़के ने बताया कि संतोष ने बार में खाना खाया था. उन्होंने शराब नहीं पी थी. पुलिस पूरे मामले की अभी जांच कर रही है.

इसे भी पढ़ें-उलीडीह के ठेकेदार से 5 लाख की रंगदारी मांगी, गोली मारने की धमकी

 

 

 

 

Related Articles

Back to top button