Crime NewsJamshedpurJharkhand

आदित्यपुर : पिस्तौल और कारतूस के साथ हिस्ट्रीशीटर पिना गोप धराया, 6 जनवरी के गैंगवार मामले में थी तलाश

Jamshedpur : सरायकेला जिले के आदित्यपुर थाना पुलिस ने बीते 6 जनवरी को आशियाना रेड चिली रेस्टोरेंट के पीछे घटी गैंगवार के मामले में पिना गोप नामक अपराधी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. पुलिस ने अपराधी के पास से एक देसी कट्टा और दो जिंदा कारतूस भी बरामद किया है. पिना गोप का आपराधिक इतिहास रहा है. वह साल 2016 में हत्या के आरोप में जेल जा चुका है.  मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए आदित्यपुर थाना प्रभारी आलोक कुमार दुबे ने बताया कि रेड चिली रेस्टोरेंट के पास हुई मारपीट में आशीष दीप नामक युवक की बेरहमी से पिटाई करने के बाद अपराधियों ने माझी टोला चांदनी चौक समीप फेंक दिया था. आशीष दीप सुजय नंदी हत्याकांड में जेल जा चुका है. युवक को मारपीट कर फेंके जाने की जानकारी मिलने पर पुलिस की पेट्रोलिंग गाड़ी से घायल आशीष को तत्काल एमजीएम अस्पताल भेजा गया. वहां उसकी स्थिति की गंभीरता को देखते हुए टीएमएच रेफर कर दिया गया है. फिलहाल उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है.

थाना प्रभारी ने बताया, कि जांच के क्रम में कुल 5 लोगों का नाम सामने आया है. इसी क्रम में आशियाना ट्रेड सेंटर के समीप कल देर रात पुलिस गश्ती दल को देख पिना गोप भागने लगा, जिसे खदेड़ कर पकड़ा गया. गिरफ्तारी के क्रम में उसके पास से एक देसी कट्टा और दो जिंदा कारतूस बरामद किया गया. उसने अपने स्वीकारोक्ति बयान में बताया कि आशीष दीप के साथ हुए मारपीट की घटना में उसकी संलिप्तता थी. फिलहाल उसे आर्म्स एक्ट के आरोप में न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है. आशीष दीप की शिकायत के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी. पुलिस इस घटना को गैंगवार के रूप में देख रही है. थाना प्रभारी ने बताया, कि वर्चस्व को लेकर दोनों गुटों के बीच लड़ाई हुई थी. उन्होंने बताया कि पिना गोप की गिरफ्तारी से क्षेत्र में अपराध नियंत्रण पर रोक लगेगी. उन्होंने बाकी अपराधियों को जल्द गिरफ्तार करने का दावा किया.

इसे भी पढ़ें – जमशेदपुर: दुकानदारों के विरोध के बाद टला दीनानाथ पांडेय की प्रतिमा स्थापना के लिए भूमिपूजन

 

Related Articles

Back to top button