Jamshedpur

जिंदल की मनमानी से आजिज आदित्यपुर हेवेन रिवर व्यू निवासियों ने रोका काम

कहा - वैकल्पिक रोड बनाने के बाद ही रास्ता खोदने की मिलेगी इजाजत, जनता की जानमाल की कीमत पर विकास मंजूर नहीं

Adityapur :  पेयजलापूर्ति, सीवरेज, सड़क और गैस पाइप-लाइन का काम कर रही एजेंसियों द्वारा सड़क को बार-बार खोदे जाने से नाराज हरिओम नगर हेवेन रिवर व्यू कांप्लेक्स के निवासियों ने काम बंद करा दिया. उनका कहना है कि पहले वहां काम कर रही एजेंसी लोगों के आनेजाने के लिए वैकल्पिक रास्ते की व्यवस्था करे, उसके बाद काम करे. स्थानीय निवासी पूरे बरसात के मौसम में नारकीय स्थिति झेल रहे हैं. पैदल और दोपहिया वाहनों की कौन कहे,  चारहिया वाहन तक रोज फंस जाते हैं.

मेडट्रीना अस्पताल (सरिता सिनेमा) से हरिओम नगर रोड नंबर-5 तक की लगभग एक किमी लंबी सड़क में जिंदल जलापूर्ति लाइन बिछाने का काम कर रही है. सापुरजी पालनजी कंपनी सीवरेज लाइन का काम कर रही है, गेल इंडिया गैस पाइल बिछाने का और नगर निगम सड़क बनवाने का काम कर रहा है. बुधवार को जिंदल के लोगों ने बिना कोई वैकल्पिक रास्ता दिये. एक बार फिर सड़क को खोद दिया, तो हेवेन रिवर व्यू के लोगों का धैर्य जवाब दे गया. उन्होंने एजेंसी के साइट इंचार्ज को वैकल्पिक रास्ता बनाने तक काम रोक देने को कहा. कहा कि वैकल्पिक रोड बनाने के बाद ही रास्ता खोदने की इजाजत दी जायेगी. हमें जनता की जानमाल की कीमत पर विकास मंजूर नहीं है. इसू बीच वहां से गुजर रहे सरायकेला एडीससी सुबोध कुमार भी पहुंच गये. उन्होंने वहीं से सभी एजेंसी के प्रतिनिधियों को बुलाया और नगर आयुक्त गिरिजा शंकर को भी सड़क की स्थिति की जानकारी दी. निगम से एक जूनियर इंजीनियर को भेजा गया. कुल मिलाकर समाधान यह निकला कि सड़क पर जो भी एजेंसी काम कर रही है, वह लोगों के आनेजाने के लिए मोटरेबल रास्ता बना कर देगी. नगर आयुक्त गिरिजा शंकर ने बताया कि उन्होंने सभी एजेंसियों को बुलाकर तालमेल बनाकर काम करने और लोगों के आवागमन के लिए मोटरेबल रास्ता बनाने का निर्देश दिया है. इस अवसर पर जीएस ओझा, बी श्रीवास्तव, अमित सिंह, ललित केडिया, नीरज कुमार, डॉ दीपक केडिया, प्रकाश सिंह, रोहित केजरीवाल, सौरभ केजरीवाल आदि उपस्थित थे.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें-

 

 

 

 

The Royal’s
Sanjeevani

Related Articles

Back to top button