BusinessNational

बैंकों और डाकघरों में आधार नामांकन का काम चलता रहेगा : यूआईडीएआई

NewDelhi :  भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अजय भूषण पांडे ने कहा है बैंकों और डाकघरों में चल रहे आधार नामांकन और उनमें ताजा जानकारी जोड़ने की अद्यतन गतिविधियां चलती रहेंगी, क्योंकि यह सत्यापन सेवा से अलग है. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि बैंक खाता खोलने के लिए आधार अनिवार्य नहीं है,  लेकिन पांडे ने कहा, बैंक खाते खोलने और अन्य सेवाओं के लिए आधार का ऑफलाइन मोड में उपयोग किया जा रहा है.  इस क्रम में यूआईडीएआई ने कहा कि आधार के प्रयोग पर प्रतिबंध लगाने वाले सुप्रीम कोर्ट के आदेश से बैंकों, डाकघरों और सरकारी परिसरों में चल रही प्रक्रिया पर कोई असर नहीं होगा. इन जगहों पर आधार बनाने के काम चलता रहेगा. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण, पैन-आईटीआर में आधार के इस्तेमाल को वैधानिक करार दिया है.

इसे भी पढ़ें : धार्मिक परंपराओं पर सिलेक्टिव एप्रोच न अपनाये  सुप्रीम कोर्ट: जेटली 

advt

आधार व्यवस्था में बैंकों की भूमिका महत्वपूर्ण है

कहा गया कि आधार व्यवस्था में बैंकों की भूमिका  महत्वपूर्ण है, इसलिए आधार नामांकन और अद्यतन गतिविधियां पहले की तरह ही जारी रहेंगी.  यूआईडीएआई के अनुसार आधार के लिए नामांकन और अद्यतन सेवाएं, सत्यापन सेवाओं से पूरी तरह से अलग हैं. सीईओ  पांडे ने कहा कि देश में 60-70 करोड़ लोगों के पास पहचान के लिए केवल आधार कार्ड एकमात्र पहचान पत्र है, इसलिए इसका स्वैच्छिक ऑफलाइन उपयोग जारी रहेगा. बताया कि बैंकों और डाकघरों में 13,000-13,000 केंद्र स्थापित किये गये हैं. आवश्यकता पड़ने पर और केंद्र खोले जायेंगे.

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: