JharkhandMain SliderRanchi

एडीजी रेजी डुंगडुंग ने दिया वीआरएस का आवेदन, राजनीति में जाने के कयास

Ranchi: एडीजी रेजी डुंगडुंग ने वोलिंटरी रिटायरमेंट स्कीम (वीआरएस) के तहत आवेदन दिया है. उन्होंने सरकार से आग्रह किया है कि 15 अक्टूबर से पहले उनके आवेदन को स्वीकृत किया जाये. पुलिस मुख्यालय ने उनके आवेदन को गृह विभाग के पास भेज दिया है. डीजीपी कमल नयन चौबे ने इस खबर की पुष्टि की है. रेजी डुंगडुंग अभी एडीजी वायरलेस के पद पर पदस्थापित हैं. वह 1987 बैच के आइपीएस हैं. साफ-सुथरी छवि और गलत के खिलाफ आवाज उठाने के लिए उन्हें जाना जाता है. अगर वह वीआऱएस नहीं लेते तो 31 जनवरी 2020 को रिटायर होते.

इसे भी पढ़ें- ढुल्लू महतो के आगे क्यों मजबूर है बहुमत वाली रघुवर सरकार

विधानसभा चुनाव में उतरने की तैयारी

जानकारी के मुताबिक रेजी डुंगडुंग सिमडेगा जिला के रहनेवाले हैं. वीआरएस के लिए आवेदन करने के पीछे माना जा रहा है कि वह राजनीति में उतरेंगे. सूत्रों के मुताबिक आगामी विधानसभा चुनाव में वह चुनाव भी लड़ेंगे. हालांकि वह किस दल में शामिल होंगे, इसे लेकर स्पष्ट कुछ नहीं है. पर, कांग्रेस और झामुमो के कुछ नेताओं से उनका नजदीक का रिश्ता है. इस कारण माना जा रहा है कि वह इन्हीं दो दलों में से किसी एक में शामिल होंगे.

इसे भी पढ़ें – इतिहासकार रामचंद्र  गुहा, मणिरत्नम, अनुराग कश्यप समेत 49 हस्तियों ने मॉब लिंचिंग पर पीएम मोदी को पत्र लिखा

कई महत्वपूर्ण पदों पर रहे

रेजी डुंगडुंग झारखंड पुलिस में कई महत्वपूर्ण पदों पर काम कर चुके हैं. धनबाद में एसएसपी के पद पर काम करते हुए उन्होंने कोल माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की थी. वह जमशेदपुर में भी एसपी के पद पर काम कर चुके हैं. रांची जोन के आइजी के रूप में लंबे समय तक काम किया. जिसके बाद करीब चार सालों तक वह एडीजी स्पेशल ब्रांच के पद पर रहे. वर्तमान सरकार के वक्त रेजी डुंगडुंग को एडीजी सीआइडी बनाया गया. लेकिन चर्चित बकोरिया कांड के बाद उन्हें उस पद से हटा कर एडीजी जैप में पोस्टिंग दी गयी. वर्तमान में वह एडीजी वायरलेस के पद पर पदस्थापित हैं.

इसे भी पढ़ें – मॉनसून सत्र का तीसरा दिनः सदन में गूंजा ‘जय श्रीराम’ का नारा, बाधित रही कार्यवाही

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: