National

रक्षा प्रतिष्ठानों में पर्याप्त मात्रा में तेल का स्टॉक, बिना रुकावट के होगी तेल की सप्लाई

NewDelhi : पाकिस्तान के साथ तनाव बढ़ने के साथ ही भारतीय तेल कंपनियों ने सभी रक्षा और स्ट्रैटेजिक असेस्ट्स को बिना रुकावट के तेल पहुंचाने के लिए के लिए बहुत ठोस योजना बनाई है. इसके लिए तेल के ट्रकों को राज्यों के लिए रवाना कर दिया गया है. शीर्ष अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि पाकिस्तान के साथ लगती सीमा के अग्रिम इलाकों के रक्षा प्रतिष्ठानों में पर्याप्त मात्रा में तेल उपलब्ध है. शीर्ष अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि पाकिस्तान के साथ लगती सीमा के अग्रिम इलाकों के रक्षा प्रतिष्ठानों में पर्याप्त मात्रा में ईंधन उपलब्ध है. तेल कंपनियों ने मंगलवार को जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर हवाई हमले से पहले जम्मू-कश्मीर और अन्य अग्रिम इलाकों में अपने भंडारणों को पूरा कर लिया था. अधिकारियों का कहना है कि अब तक 500 से अधिक तेल टैंकरों को जेट ईंधन (एटीएफ), डीजल और अन्य पेट्रोलियम उत्पादों का स्टॉक करने के लिए राज्यों तक पहुंचाया जा रहा है. डीजल और अन्य पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स स्टोर किया जा रहा है. सामान्य दिनों में 10 दिनों तक के लिए ईंधन स्टोर किया जाता है.

दो दशक में पहली बार दोनों देशों के बीच जारी तनाव में दोनों पक्षों के फाइटर जेट मार गिराये गये हैं. सरकारी स्वामित्व वाली इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी), भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) भारतीय वायुसेना को विमान ईंधन की आपूर्ति करती है. 

इसे भी पढ़ें :  विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान से भारत कैसे वापस लाया जा सकता है?

ram janam hospital
Catalyst IAS

Related Articles

Back to top button