LIFESTYLE

आयुर्वेद के अनुसार इन चीजों को अपने डायट में करें शामिल, दवा खाने की नहीं पड़ेगी जरुरत

News Wing Desk: आयुर्वेद चिकित्सा की पुरानी पद्धतियों में से एक है. और आयुर्वेद एक सामान्य सिद्धांत पर काम करता है कि अगर आपकी डायट गड़बड़ है तो कोई दवा आप पर असर नहीं कर सकती.

Advt

अगर डायट सही है तो दवा की जरूरत नहीं पड़ेगी. तो स्वस्थ रहने के लिए आपके भोजन में संतुलित और पोष्टिक चीजों को शामिल किजीए, और हेल्दी जीवन बितायें.

अगर आप आयुर्वेद के हिसाब से डायट लेना चाहते हैं तो अपने खाने में ये चीजें जरूर शामिल करें.

सुपरफूड घी


आयुर्वेद में घी को सुपरफूड माना जाता है. मक्खन की तुलना में ये पचाने में आसान होता है. साथ ही टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर निकालता है.

स्कीन पर ग्लो लाता है गुनगुना पानी

पानी पीना सेहत के लिए फायदेमंद है. ये तो हम सभी जानते हैं. इससे हमारा डाइजेशन अच्छा होता है. टॉक्सिन्स बाहर निकलता है. लेकिन आयुर्वेद में कई जगह गुनगुने पानी के फायदों का जिक्र मिलता है.

हर घंटे पर सादा गुनगुना पानी पीते रहना चाहिए ताकि पानी की कमी न हो और मेटाबॉलिजम सही रहे. गुनगुना पानी न सिर्फ शरीर से हानिकारक पदार्थ बाहर निकालता है बल्कि स्किन में ग्लो भी लाता है.

गुनगुना दूध पवित्र

आयुर्वेद में हल्के गरम यानी गुनगुने दूध को काफी पवित्र माना जाता है. ठंडे दूध की तुलना में गर्म दूध पचाना भी आसान होता है.

अगर दूध को सही तरीके से और सही मात्रा में लिया जाये तो यह शरीर के सारे दोषों को बैलेंस करता है और शरीर को शक्ति देता है.

जीरा डायजेशन के लिए सही

आयुर्वेद में जीरे को भी अपनी डायट में शामिल करने की सलाह दी जाती है. इससे हमारा डायजेशन सही होता है. जीरा डायट में दो तरीके से शामिल किया जा सकता है.

या तो रात भर जीरे को पानी में भिगोकर रखें और सुबह-सबसे खाली पेट इसके पानी को पियें या फिर पानी उबालें और इसमें एक चुटकी जीरा डाल लें.

Advt

Related Articles

Back to top button