Lead NewsNational

एक्टर सोनू सूद और सहयोगियों ने 20 करोड़ रुपये से अधिक का टैक्स किया चोरी

आईटी ने फर्जी संस्थाओं से असुरक्षित ऋण के रूप में आय को रूट करने का लगाया आरोप

Mumbai : आयकर विभाग ने शनिवार को कहा कि अभिनेता सोनू सूद और उनके सहयोगियों ने 20 करोड़ रुपये से अधिक की कर चोरी की है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने कहा कि बॉलीवुड अभिनेता और उनके सहयोगियों के परिसरों की तलाशी के दौरान कर चोरी से संबंधित आपत्तिजनक सबूत मिले.

समाचार एजेंसी एएनआई ने कर विभाग के एक अधिकारी के हवाले से कहा, “अभिनेता द्वारा अपनाई जाने वाली मुख्य कार्यप्रणाली कई फर्जी संस्थाओं से फर्जी असुरक्षित ऋण के रूप में अपनी बेहिसाब आय को रूट करना था.”

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : BJP का दामन छोड़ दीदी का पल्लू पकड़ा पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने

28 परिसरों की ली गई थी तलाशी

इनकम टैक्स विभाग ने मुंबई में अभिनेता के कई परिसरों और बुनियादी ढांचे के विकास में लगे लखनऊ स्थित उद्योगों के एक समूह पर तलाशी और जब्ती अभियान चलाया.

सीबीडीटी ने कहा कि अभियान के दौरान मुंबई, लखनऊ, कानपुर, जयपुर, दिल्ली, गुरुग्राम में 28 परिसरों की तलाशी ली गई. विभाग ने बुधवार को अभिनेता के खिलाफ कार्रवाई शुरू की थी, जिसके बाद उनसे जुड़े लोगों की तलाशी ली गई.

इसे भी पढ़ें :Latehar: करम विसर्जन करने गयीं 7 लड़कियों की गड्ढे में डूबकर मौत

आप और शिवसेना ने कार्रवाई के लिए केंद्र पर निशाना साधा

आम आदमी पार्टी (आप) और शिवसेना ने कार्रवाई के लिए केंद्र पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि बॉलीवुड स्टार, जो कोरोना वायरस-प्रेरित लॉकडाउन लागू होने के बाद से कई कल्याणकारी कार्यों में शामिल थे, उनको निशाना बनाया जा रहा था.

महामारी के दौरान प्रवासी श्रमिकों के लिए परिवहन की व्यवस्था के साथ शुरू हुई उनकी मानवीय गतिविधियों ने उन्हें राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाई.

सूद हाल ही में छात्रों के लिए बने आम आदमी पार्टी के मेंटरशिप प्रोग्राम के एंबेसडर बने हैं. उनके समर्थन में ट्वीट करते हुए आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सूद ने उन लाखों परिवारों की प्रार्थना की, जिनका उन्होंने कठिन समय में समर्थन किया.

शिवसेना ने कहा कि एक बार भाजपा सूद की प्रशंसा करती थी, लेकिन अब दिल्ली और पंजाब सरकारों द्वारा उनके साथ हाथ मिलाने की कोशिश के बाद उसे लगा कि वह कर चोर है.

इसे भी पढ़ें :नक्सल प्रभावित टोकलो के भारीनिया चौक पर माओवादियों ने पोस्टर साटे, इलाके में दहशत

Related Articles

Back to top button