JharkhandKoderma

दाखिल खारिज के मामलों को 30 दिन में नहीं निपटाने वाले अधिकारी पर होगी कार्रवाई- उपायुक्त

Koderma: समाहरणालय सभागार में उपायुक्त रमेश घोलप की अध्यक्षता में शनिवार को राजस्व, निबंधन, भूमि सुधार, भू अर्जन एवं एफआरए पट्टा, दाखिल-खारिज, भूमि सीमांकन एवं ई-कोर्ट से संबंधित कार्यों की समीक्षा बैठक हुई.

उपायुक्त ने जमीनों के दाखिल-खारिज, म्यूटेशन से संबंधित कार्यों की समीक्षा करते हुए लंबित आवेदनों की जानकारी ली. समीक्षा के क्रम में पाया कि जिले में 2364 दाखिल खारिज से संबंधित मामले लंबित हैं.

उपायुक्त ने लंबित मामलों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी अंचल अधिकारी को निर्देशित किया. कहा कि बिना किसी उचित कारण से दाखिल खारिज के आवेदनों को अस्वीकृत किया जाता है. इसकी जांच करना वे सुनिश्चित करेंगे.

इसे भी पढ़ें : 29 दिसंबर को 55 खिलाड़ियों की हो सकती है सीधी नियुक्ति!

सख्त निर्देश दिया कि बिना उचित कारण के आवेदन अस्वीकृत न हों. साथ ही 30 दिनों तक कोई भी मामला लंबित न हो, यह सुनिश्चित करें. दाखिल खारिज व राजस्व से संबंधित मामलों हेतु अपर समाहर्ता अनिल तिर्की को प्रखंड कोडरमा, चंदवारा व जयनगर और अनुमंडल पदाधिकारी मनीष कुमार को मरकच्चो, डोमचांच व सतगावां प्रखंड के नोडल पदाधिकारी बनाया गया.

उपायुक्त ने अपर समाहर्ता व अनुमंडल पदाधिकारी को अंचलवार दाखिल खारिज व राजस्व से संबंधित मामलों की समीक्षा करने का निर्देश दिया. कहा कि जांच के क्रम में दाखिल खारिज मामले में अंचल अधिकारी, अंचल निरीक्षक व अन्य कर्मियों के द्वारा किसी भी प्रकार की लापरवाही पायी जाती है, तो कार्रवाई करेंगे.

उपायुक्त श्री घोलप ने अनुमंडल कार्यालय में आवासीय, जाति प्रमाण पत्र से संबंधित लंबित आवेदनों पर नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने कहा कि इससे आमजनों व युवा को काफी समस्या का सामना करना पड़ता है. अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि आवासीय, जाति प्रमाण पत्र से संबंधित लंबित आवेदनों ससमय शत-प्रतिशत निस्पादन करना सुनिश्चित करेंगे.

अवैध जमाबंदी व नियमितीकरण के मामलों की समीक्षा

उपायुक्त श्री घोलप अवैध जमाबंदी के मामलों की समीक्षा करते हुए सभी अंचल अधिकारियों को निदेशित किया कि एक बेहतर रणनीति के तहत कार्य करना सुनिश्चित करें एवं राजस्व से संबंधित जितने भी आवेदन आ रहे है सभी का रिपोर्ट तैयार करे एवं उचित कारणों के साथ सभी का निष्पादन ससमय कराया जाय.

इसके साथ हीं उन्होंने सभी अंचलाधिकारी को निदेशित किया कि अपने स्तर से भी सारे कार्यो को निरीक्षण करें ताकि सारे कार्यो की प्रगति सही से एवं समय पर हो सके. मौके पर अपर समाहर्ता श्री अनिल तिर्की, अनुमंडल पदाधिकारी मनीष वर्मा व सभी प्रखंड के अंचल अधिकारी मौजूद थे.

Related Articles

Back to top button