BiharNEWS

मधुबनी : पथ निर्माण विभाग की कार्रवाई, 2 इंजीनियर सस्पेंड, 2 बर्खास्त और एक चीफ इंजीनियर को शोकॉज नोटिस जारी

Madhubani : जिले में एनएच-227 पर गड्‌ढों को लेकर पथ निर्माण विभाग ने करवाई की है. इसके लिए जिम्मेदार 2 इंजीनियर को सस्पेंड कर दिया गया है. वहीं 2 बर्खास्त और एक चीफ इंजीनियर को शोकॉज नोटिस जारी किया गया है. पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने बताया कि एक्जीक्यूटिव इंजीनियर लोकेश नाथ मिश्रा और एक जूनियर इंजीनियर को निलंबित कर दिया गया है. उनके साथ काम करने वाले असिस्टेंट इंजीनियर और जूनियर इंजीनियर को सेवा से मुक्त कर दिया गया है.

साथ ही सुपरीटेंडिंग इंजीनियर ईश्वरी प्रसाद सिंह और नेशनल हाई-वे के चीफ इंजीनियर अमरनाथ पाठक को शोकॉज नोटिस दिया गया है. उनसे पूछा गया कि ठेकेदार ने काम करना छोड़ दिया तो सड़क की मरम्मत क्यों नहीं की गई. उन्होंने बताया कि बीते जून को बिहार दौरे पर आए केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी इस नेशनल हाई-वे के निर्माण के लिए शिलान्यास कर चुके हैं. बारिश के बाद इसका काम शुरू हो जाएगा.

केंद्र बोला- अभी बिहार ने यह सड़क नहीं सौंपी

Catalyst IAS
ram janam hospital

केंद्र सरकार के सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने ट्वीट कर बताया कि इस सड़क को नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया बनाएगी. हालांकि अभी तक बिहार सरकार ने इसे हैंड ओवर नहीं किया है. इस प्रोजेक्ट पर काम दो हफ्ते में शुरू होगा. गौरतलब है कि  मधुबनी से गुजरने वाला नेशनल हाईवे-227 इन दिनों सुर्खियों में है. इसकी वजह यह है कि हाइवे पर सड़क कम गड्ढे ज्यादा हैं. सबसे बड़ा गड्ढा तो 100 फीट का है. इस सड़क से छोटी गाड़ियों समेत ट्रक और डंपर जैसे बड़े वाहन भी गुजरते हैं, जिससे हादसों का डर बना रहता है.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

इसे भी पढ़ें : पटना में ड्रग इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार के ठिकानों पर निगरानी की रेड

Related Articles

Back to top button