National

कार्रवाई : तबलीगी जमात से जुड़े 2200 विदेशी नागरिकों को गृह मंत्रालय ने 10 साल के लिए किया बैन

New Delhi :  केंद्रीय गृह मंत्रालय ने तबलीगी जमात के 2200 विदेशी सदस्यों को काली सूची में डाल दिया है. और उन पर अगले दस वर्षों के लिए भारत आने पर प्रतिबंध लगा दिया है. ये जानकारी मंत्रालय के एक अधिकारी ने दी है.

बता दें कि ये लोग टूरिस्ट वीजा पर भारत आकर तबलीगी जमात के धार्मिक जलसों में शामिल हुए. इन जलसों में शिरकत करने वाले 2200 विदेशी नागरिकों पर भारत सरकार ने यह कार्रवाई की है. इन विदेशियों पर अगले 10 वर्ष के लिए बैन लगा दिया गया है. अब ये नागरिक अगले 10 वर्ष तक भारत नहीं आ सकेंगे. ये नागरिक टूरिस्ट वीजा पर भारत आकर तबलीगी जमात के कार्यक्रमों में शामिल हुए थे.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना काल में जिन कंपनियों को 90 हजार करोड़ का पैकेज मिला, उनके लिए ही बिजली क्षेत्र का होगा निजीकरण

Catalyst IAS
ram janam hospital

इन सभी को वीजा संबंधित नियमों का उल्लंघन करने के लिए 10 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है.

The Royal’s
Sanjeevani

खबरों में बताया गया है कि 2200 से अधिक विदेशी तबलीगी जमात के सदस्य हैं. जिन्होंने भारत का दौरा किया और पूरे देश में तबलीगी कार्यक्रमों में पर्यटक वीजा पर हिस्सा लिया. अब इन्हें 10 वर्ष के लिए ब्लैकलिस्ट किया गया है. हालांकि कहा जा रहा है कि यह समय और बढ़ाया जा सकता है.

बता दें कि देश में कोरोना वायरस के फैलने के बाद तबलीगी जमात के लोग चर्चा में आये. औऱ इन पर कोरोना फैलाने के भी आऱोप लगे.

इसे भी पढ़ेंः गिरिडीह : माओवादियों को फंडिंग के आरोप में फंसी रामकृपाल सिंह कंस्ट्रक्शन कंपनी जिले में दो सौ करोड़ का काम कर चुकी है  

बैन किये गये नागरिक इन देशों के निवासी हैं

जानकारी के अनुसार, ब्लैकलिस्ट किए गए 2200 विदेशियों में थाईलैंड, बांग्लादेश, यूके (OCI कार्ड धारक) ऑस्ट्रेलिया माली, नाइजीरिया, श्रीलंका, केन्या, जिबूती, तंजानिया, दक्षिण, अफ्रीका, म्यांमार और नेपाल के नागरिक हैं.

इसे भी पढ़ेंः Corona Update: महाराष्ट्र में अब तक 30 पुलिसकर्मियों की संक्रमण से मौत, 2,500 से अधिक बीमार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button