JharkhandRanchi

एसिड पीड़िता की हुई चार सर्जरी,  अगले तीन साल में 10 से 12 सर्जरी और होगी

  • चार सजर्री के बाद बोल पर रही पीड़िता
  • एसिड फेंकने का आरोपी पति है पुलिस की गिरफ्त से बाहर

Ranchi: 18 वर्षीया एसिड पीड़िता रिंकु देवी की चार सफल सर्जरी देवकमल अस्पताल में की गयी. दस अगस्त से अस्पताल में भर्ती होने के बाद अब तक रिंकु की चार सर्जरी की गयी है. इसके बाद रिंकु बोल पा रही है. रिंकु ने कहा कि यहां आने के पहले साढ़े तीन माह तक रिम्स के बर्न वार्ड में भर्ती रहीं. एसिड अटैक होने के बाद रिंकु का चेहरा, बाल पूरी तरह जल चुके थे. न तो उसकी आंख खुलती थी और न ही वह कुछ बोल पाती थीं.

पति ने फेंका एसिड, पुलिस की गिरफ्त से है बाहर

रिंकु पर उसके पति ने एसिड फेंका था। वो अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है: रिंकु ने बताया की वह पलामू लेस्लीगंज प्रखंड की कूराइ पात्रा की रहने वाली है. दो बेटी होने के बाद रिंकु को एक बेटा हुआ जो कुछ दिनों के बाद जिंदा नहीं रहा. इस घटना के बाद बौखलाहट में पति ने रिंकु पर एसिड फेंक दिया. स्थानीय अस्पतालों में इलाज कराने के बाद उसे रिम्स में भर्ती कराया गया था. रिंकु ने बताया कि उसके मायके वाले उसका हालचाल पूछने अस्पताल आते हैं. उन्होंने बताया कि उसका पति अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

10 से 12 सर्जरी और होगी

अस्पताल के डॉ अनंत सिन्हा और डॉ राज कुमार पाठक ने बताया कि पीड़िता की अभी और 10 से 12 सर्जरी होनी है. जिसके बाद वो लगभग सामान्य दिखेगी. लेकिन इसमें तीन साल लगेंगे. डॉक्टरों ने जानकारी दी कि पीड़िता के इलाज में अब तक लगभग पौने तीन लाख रुपये खर्च हो गये हैं. जिसमें न ही पीड़िता के परिजनों की ओर से कोई राशि दी गयी है और न ही सरकार की ओर से.

advt

इसे भी पढ़ेंः ई-रिक्शा के आंदोलन से 3 घंटे तक प्रभावित रहा निगम कार्यालय, प्रशासन रहा मजबूर

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button