न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

घूस की किस्त लेते रंगे हाथ पकड़ाये सुखदेवनगर के दरोगा अरूण कुमार, एसीबी ने किया गिरफ्तार

दरोगा पर रांची के डोरंडा थाना क्षेत्र के हिनू साकेत नगर निवासी राज अनंत कुमार से केस को कमजोर करने के एवज में 50 हजार रिश्वत मांगने का आरोप है.

eidbanner
553

Ranchi : सुखदेवनगर थाना के दारोगा अरुण कुमार सिंह को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने 7000 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ राजभवन गेट नंबर -4  के पास से गिरफ्तार किया  है. दरोगा पर रांची के डोरंडा थाना क्षेत्र के हिनू साकेत नगर निवासी राज अनंत कुमार से केस को कमजोर करने के एवज में 50 हजार रिश्वत मांगने का आरोप है. जो मांगे गए रकम की पहली किस्त थी.

इसे भी पढ़ें – ADG डुंगडुंग उतरे SP महथा के बचाव में, DGP को पत्र लिख कहा वायरल सीडी से पुलिस की हो रही बदनामी, करायें जांच

 क्या है मामला

डोरंडा थाना क्षेत्र के हिनू साकेत नगर निवासी राज अनंत कुमार की पत्नी श्रेया जैन के पिता के विरूद्ध सुखदेव नगर थाना में कांड संख्या 425/18 दर्ज है. इस केस के अनुसंधानकर्ता अरुण कुमार सिंह ही थे. अरुण कुमार सिंह ने इस मामले में केस को कमजोर करने के लिए राज अनंत कुमार से 50 हजार घूस मांगे थे. साथ ही यह भी कहा था कि यदि पैसे नहीं दोगे तो केस डायरी को कोर्ट में भेज दूंगा. साथ ही कहा था कि ऐसा फसाऊंगा कि तुन्हें बेल भी नहीं मिलेगी. राज अनंत ने एसीबी को आवेदन देकर दरोगा द्वारा घूस मांगने की जानकारी दी थी. जिसके बाद  भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने रिश्वत मांगे जाने की बात को सही पाया और राज भवन गेट नंबर- 4 के पास दरोगा अरुण कुमार सिंह को हिरासत में लिया. उस वक्त अरूण कुमार घूस के रकम की पहली किस्त 7000 हजार लेते रहे थे और उसी दौरान एसीबी ने रंगे हाथ दरोगा को धर दबोचा.

इसे भी पढ़ेंःपत्रकार से जाति विशेष बातचीत के दौरान IPS  इंद्रजीत महथा ने अपने जूनियर-सीनियर अफसरों को…

 एसीबी ने किया गिरफ्तार

Related Posts

लातेहारः SDO सह LRDC जयप्रकाश झा समेत पांच रेवेन्यू अफसरों पर धोखाधड़ी का केस दर्ज, जमीन का फर्जी दस्तावेज तैयार कर हड़प ली दिव्यांग की राशि

भुसाड़ ग्राम निवासी जंगाली भगत ने टोरी-महुआमिलान नई वीजी रेलवे लाईन निर्माण में स्वीकृत भूमि अधिग्रहण की राशि में हेराफेरी करने का लगाया आरोप

मिली जानकारी के अनुसार, राज अनंत कुमार ने दरोगा अरुण कुमार सिंह के द्वारा बताए गये जगह की जानकारी भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम को पहले ही दे दी थी. बताए जगह पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम पहले से वहां तैनात थी. जैसे ही राज अनंत कुमार ने दरोगा अरुण कुमार सिंह को 7000 रुपए दिए तो उसी वक्त एसीबी की टीम ने 7000 रुपए लेते दरोगा को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया.

इसे भी पढ़ें – एसपी अमरजीत बलिहार हत्याकांड में दोनों नक्‍सलियों को फांसी की सजा

 एसीबी की टीम कर रही है पूछताछ

घूस लेते हुए गिरफ्तार सुखदेव नगर थाना के दरोगा अरुण कुमार सिंह को एसीबी की टीम अपने साथ ले गई. और वहां दरोगा अरुण कुमार सिंह से विस्तृत पूछताछ की जा रही है.

इसे भी पढ़ेंः ‘इंफ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एंड फाइनेंशियन सर्विसेस लिमिटेड’ की तेजी से बिगड़ती वित्तीय…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: