न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: जेल से निकलने के बाद अभिमन्यु सिंह का रोड शो, स्वास्थ्य मंत्री के इशारे पर मुझे फंसाया गया- अभिमन्यु सिंह

स्वास्थ्य मंत्री का कच्चा चिट्ठा खोलकर असलियत लाउंगा सामने: अभिमन्यु

855

Palamu: जेल से निकलने के बाद झारखंड नवनिर्माण मोर्चा सुप्रीमो अभिमन्यु सिंह उर्फ बबलू सिंह ने विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र में दौरा तेज कर दिया है. मझिआंव हॉस्पिटल से शुरू किया गया जनसंपर्क अभियान खरसोता, मोरबे, अम्बेडकर चौक, सोहगाड़ा, राणाडीह, मोखापी, कोरगाइ, जयनगरा, खरौंधा, कोरियाडीह, कसनप, बनकट, सुंडीपुर, बेलहथ, पतीला, सेमौरा, कांडी बाजार से कांडी प्रखंड कार्यालय तक चलाया गया.

इसे भी पढ़ें-झारखंड हाईकोर्ट के नए चीफ जस्टिस अनिरुद्ध बोस ने ली शपथ

स्वास्थ्य मंत्री के इशारे पर मुझे फंसाया गया- अभिमन्यु सिंह

रोड शो में महिला, पुरुष व पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बम-पटाखे फोड़े. उन्होंंने फूल माला पहनाकर अभिमन्यु सिंह का स्वागत किया. मौके पर अभिमन्यू सिंह ने कहा कि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री द्वारा मुझे झूठे केस में फंसाकर एक शादी समारोह से गिरफ्तार कराया गया. थाने में दिनभर बिठाए रखा और देर शाम बिना कुछ बताए मुझे जेल भेज दिया गया.

इसे भी पढ़ें-बेघर चेरो आदिवासी परिवार को नहीं मिल रही है प्रशासन से मदद, पूरा परिवार लिए हुए है बेतला पंचायत भवन में शरण

15 अगस्त को खोलूंगा रामचंद्र चंद्रवंशी का कच्चा चिट्ठा

अभिमन्यु सिंह उर्फ बबलू सिंह ने कहा कि गरीबों की आवाज को दबाने वाले को जनता आगामी चुनाव में सबक सिखाएगी. मैं गरीब का बेटा हूं, मैंने नजदीक से गरीबी देखी है. गरीबों के दुख दर्द को बखूबी सूमझता हूं. रात में अचानक आतंकवादी की तरह गिरफ्तार कराने वालों को चैन से नहीं रहने दूंगा. 15 अगस्त से 30 अगस्त के बीच प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्वास्थ्य मंत्री का कच्चा चिट्ठा खोलूंगा. उनके काले कारनामे से जब पर्दा उठेगा, तब लोगों को असली सच्चाई का पता चलेगा.

इसे भी पढ़ें-एचईसी आयी, तो एससी-एसटी को पैसा मिला और उनलोगों ने दारू पीकर उड़ा दिया : सांसद रामटहल चौधरी

कौन-कौन थे मौजूद ?

इस दौरान अभिमन्यु सिंह के साथ मीडिया प्रभारी राहुल दूबे, बिनोद विश्वकर्मा, नीरज सिंह, कमलेश पांडेय, अखिलेश मिश्रा, मनु कुमार, मुखिया अनुज ठाकुर, अशोक दुबे, अंजनी सिंह, उपेंद्र सिंह, फरमान अंसारी, प्रमोद गुप्ता, मंगल गुप्ता, संजू सिंह, अनुज चौधरी, ननकू कुमार, बबलू कुमार, अनिल मेहता, लल्लू मेहता व सुनील पांडेय शामिल थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें
स्वंतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता का संकट लगातार गहराता जा रहा है. भारत के लोकतंत्र के लिए यह एक गंभीर और खतरनाक स्थिति है.इस हालात ने पत्रकारों और पाठकों के महत्व को लगातार कम किया है और कारपोरेट तथा सत्ता संस्थानों के हितों को ज्यादा मजबूत बना दिया है. मीडिया संथानों पर या तो मालिकों, किसी पार्टी या नेता या विज्ञापनदाताओं का वर्चस्व हो गया है. इस दौर में जनसरोकार के सवाल ओझल हो गए हैं और प्रायोजित या पेड या फेक न्यूज का असर गहरा गया है. कारपोरेट, विज्ञानपदाताओं और सरकारों पर बढ़ती निर्भरता के कारण मीडिया की स्वायत्त निर्णय लेने की स्वतंत्रता खत्म सी हो गयी है.न्यूजविंग इस चुनौतीपूर्ण दौर में सरोकार की पत्रकारिता पूरी स्वायत्तता के साथ कर रहा है. लेकिन इसके लिए जरूरी है कि इसमें आप सब का सक्रिय सहभाग और सहयोग हो ताकि बाजार की ताकतों के दबाव का मुकाबला किया जाए और पत्रकारिता के मूल्यों की रक्षा करते हुए जनहित के सवालों पर किसी तरह का समझौता नहीं किया जाए. हमने पिछले डेढ़ साल में बिना दबाव में आए पत्रकारिता के मूल्यों को जीवित रखा है. इसे मजबूत करने के लिए हमने तय किया है कि विज्ञापनों पर हमारी निभर्रता किसी भी हालत में 20 प्रतिशत से ज्यादा नहीं हो. इस अभियान को मजबूत करने के लिए हमें आपसे आर्थिक सहयोग की जरूरत होगी. हमें पूरा भरोसा है कि पत्रकारिता के इस प्रयोग में आप हमें खुल कर मदद करेंगे. हमें न्यूयनतम 10 रुपए और अधिकतम 5000 रुपए से आप सहयोग दें. हमारा वादा है कि हम आपके विश्वास पर खरा साबित होंगे और दबावों के इस दौर में पत्रकारिता के जनहितस्वर को बुलंद रखेंगे.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: