National

#Aarogya Setu : आरएसएस के पूर्व विचारक गोविंदाचार्य ने आरोग्य सेतु एप को लेकर केंद्र को भेजा नोटिस, कहा- सभी कॉन्टैक्ट लिस्ट की हो रही जासूसी

New Delhi : आरोग्य सेतु एप की सुरक्षा पर कई सवाल पहले भी उठ चुके हैं. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इसे लेकर सवाल उठाया था. अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व विचारक केएन गोविंदाचार्य ने आरोग्य सेतु एक की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाये हैं और केंद्र सरकार को नोटिस भेजा है.

उन्होंने  आरोप लगाया है कि इस ऐप के जरिये लोगों के फोन कॉन्टैक्ट लिस्ट की जासूसी हो रही है. यह एप देश के लगभग 9 करोड़ लोगों के द्वारा डाउनलोड किया गया है.

सरकार के साथ-साथ निजी क्षेत्र के कर्मचारियों और कंटेनमेंट जोनवाले  क्षेत्रों में रहनेवाले लोगों के लिए इसे डाउनलोड करना अनिवार्य बना दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – #CoronaUpdates: रिकवरी रेट बढ़ा, हर तीन में एक कोरोना मरीज हो रहा ठीक, 24 घंटे में 3390 नये केस

एनआइसी प्रमुख को भेजा नोटिस

केएन गोविंदाचार्य ने राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआइसी) की प्रमुख नीता वर्मा को नोटिस भेजा है. यह नोटिस उन्होंने अपने वकील विराग गुप्ता के माध्यम से भेजा है.

नीता वर्मा सरकार के आईटी सेल का नेतृत्व करती हैं. नोटिस में सरकार पर यह आरोप लगाया गया है कि भारतीयों के डाटा को विदेशी प्रौद्योगिकी दिग्गजों द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें – #CBSE की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 1 से 15 जुलाई के बीच होंगी

कंपनियां लगा सकती हैं निजता में सेंध

उन्होंने कहा कि इसका टेलीकॉम कंपनियां दुरुपयोग कर सकती हैं. ये कंपनियां ग्राहकों की जरूरी सूचनाओं में सेंध लगा सकती हैं. इसके अलावा मोबाइल फोन बनानेवाली कंपनियां भी ग्राहकों की सूचनाओं को जान सकती हैं और उनका अनधिकृत तौर पर इस्तेमाल कर सकती हैं.

श्री गोविंदाचार्य ने नोटिस में कहा है कि  जब सरकार जब इस एप को सभी लोगों को डाउनलोड करने के लिए अनिवार्य कर रही है तो फिर अगर इस ऐप के जरिए निजता के संबंध में कोई भी चूक होती है तो सरकार को इसके लिए जवाबदेह होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें – वैश्विक महामारी कोरोना से दुनियाभर में नफरत की सुनामी आ रही है: एंतोनियो गुतारेस

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close