JharkhandRanchi

ट्विटर में फिर दिखा AAP का दम, हेमंत ने भी गोले दागे

NW Desk : सोशल मीडिया की जंग झारखंड में दिलचस्प मोड़ पर आ चुकी है. चार अगस्त की रात ट्विटर में टॉप ट्रेंडिंग में आने वाली आम आदमी पार्टी ने एक बार फिर छह अगस्त की रात अपना दम दिखाया. देर शाम लगभग 7.30 बजे से आधी रात लगभग दो बजे तक ट्विटर में आम आदमी पार्टी की ट्रेंडिंग दिखी. कुछ समय तो यह टॉप-4 पोजिशन तक आ गई. #झारखंडजोड़ोअभियान हैज टैग के जरिये AAP के इस कैम्पेन में लगभग सोलह हजार से भी ज्यादा ट्वीट या रिट्वीट की सूचना है.

हेमंत ने भी रघुवर सरकार पर किया तीखा हमला

इससे उत्साहित आप सोशल मीडिया टीम के एक सदस्य ने कहा कि “झारखंड में इतने मुद्दे हैं कि हमें आम लोगों का जबरदस्त समर्थन मिल रहा है. हमारे इस कैम्पेन में बड़ी संख्या में ऐसे आम लोग जुड़े, जिन्हें हम जानते भी नहीं. दूसरी ओर, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी लगातार ट्विटर के जरिए रघुवर सरकार पर तीखे हमले कर रहे हैं. पंचायतों में गठित ग्राम विकास समिति के खिलाफ केंद्र सरकार के पत्र का जवाब नहीं भेजे जाने को उन्होंने मुद्दा बनाते हुए लिखा- “लगता है @dasraghubar जी को विषेशाधिकार प्राप्त है. पूर्व मुख्य सचिव के मामले में भी इन्होंने @PMOIndia को दरकिनार किया था. अपने हर एक विवादित फैसलों में यह चुप्पी बांध लेते हैं.

Catalyst IAS
ram janam hospital

DGP और मंत्री लुइस मरांडी के विवादित बयान पर हेमंत का ट्वीट

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसी तरह, डीजीपी और मंत्री लुइस मरांडी के विवादित बयान पर हेमंत सोरेन ने ट्वीट किया- “DGP कहते हैं कि छह इंच छोटा कर देंगे. मंत्री लुइस मरांडी कहती हैं कि आंखे निकाल लेंगी. यह लोकतांत्रिक सरकार है या फिर तालिबानी सरकार. दिलचस्प यह कि सोशल मीडिया में सर्वाधिक बड़ी पैठ के बावजूद भाजपा की ओर से झारखंड में फिलहाल कोई आक्रामक तेवर नहीं दिख रहा है. सत्ता में होने के कारण उनकी सीमा हो सकती है. मुख्यमंत्री के ट्विटर हैंडल से लगातार ट्वीट के बावजूद भाजपा के अन्य लोगों की सक्रियता खास नहीं दिखती.

कैम्पेन चलाकर आप ने टॉप ट्रेंडिंग में बनायी जगह

उल्लेखनीय है कि चार अगस्त की रात आम आदमी पार्टी की झारखंड सोशल मीडिया टीम ने #Mission_Jharkhand हैज टैग से कैम्पेन चलाकर कई घंटों तक टॉप ट्रेंडिंग में जगह बनाए रखी. इस संबंध में आप सोशल मीडिया टीम के एक सदस्य ने नाम की गोपनीयता की शर्त पर कहा- “हमने सोचा था कि हम कैम्पेन करेंगे, तो केंद्रीय टीम की मदद मिलेगी. लेकिन हमने बात की तो कहा गया कि दूसरों की मदद से अभियान चलाकर कोई लाभ नहीं. खुद जितना कर सकते हों, करके देखें. इसके बाद हमलोगों ने खुद ही प्लान किया और उम्मीद से ज्यादा सफलता मिली. इससे हम आगे के लिए काफी कुछ सीख गए हैं.

कैम्पेन के जरिये आप ने इन मुद्दों को उठायाट्विटर में फिर दिखा AAP का दम, हेमंत ने भी गोले दागे

इस अभियान में आम आदमी पार्टी ने झारखंड में शिक्षा और बेरोजगारी के अलावा आदिवासी समाज और महिलाओं से जुड़े मुद्दे उठाए. दिल्ली की सफलता की चर्चा करते हुए झारखंड में उन नीतियों को लागू करने की बात कही.

न्यूजविंग की स्टोरी की आप सोशल मीडिया पर चर्चा

दिलचस्प यह कि आप सोशल मीडिया टीम में ‘न्यूजविंग’ की उस स्टोरी को लेकर काफी चर्चा है जिसमे चार अगस्त की रात के अभियान का उल्लेख है. आप सोशल मीडिया टीम के एक सदस्य ने लिखा- “मीडिया से जिस निष्पक्षता और स्पष्टवादिता की उम्मीद की जाती है, न्यूज़विंग उसकी मिसाल पेश कर रहा है. न्यूजविंग की उस स्टोरी को खासतौर पर आप तथा जेएमएम कार्यकर्ताओं द्वारा बड़े पैमाने पर शेयर किए जाने की भी सूचना है। हमारी कोशिश रहेगी कि सोशल मीडिया में सभी दलों की हलचल की निष्पक्ष और वस्तुगत प्रस्तुति करें।

Related Articles

Back to top button