न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

गिरिडीह लोकसभा सीट पर आजसू की रणनीति: ढुल्लू, शाहाबादी के साथ बेरमो में मिल सकता है विपक्ष का साथ

चंद्रप्रकाश चौधरी से मिले ढुल्लू और शाहाबादी, कहा 100 परसेंट मिलेगा साथ, आजसू का दावा 90 फीसदी बूथ पर तैयार हैं कार्यकर्ता

1,703

Ranchi: गिरिडीह में राजनीतिक शह और मात का खेल अपने चरम पर है. जीत की रणनीति महागठबंधन के साथ-साथ एनडीए भी बना रहा है. आजसू के लिए यह सीट एक तरह से अस्तित्व की लड़ाई मानी जा रही है.

mi banner add

लिहाजा आजसू कोई भी दांव खेलने से परहेज नहीं करेगा. इसी क्रम में आजसू ने अपनी रणनीति बना ली है. हालांकि पार्टी ने कैंडिडेट की औपचारिक घोषणा नहीं की है, लेकिन यह तय माना जा रहा है कि राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी ही आजसू के उम्मीदवार होंगे.

चंद्रप्रकाश ने  गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र का तुफानी दौरा भी शुरू कर दिया है. कई जगहों पर खुले मंच से घोषणा भी कर चुके हैं कि मैं ही आजसू से कैंडिडेट हूं.

इसे भी पढ़ेंः बिहार एनडीए में उम्मीदवारों का ऐलान, शत्रुघ्न सिन्हा का कटा टिकट-गिरिराज बेगूसराय से लड़ेंगे चुनाव

ढुल्लू और निर्भय शाहाबादी ने किया कमिटमेंट

बाघमारा से बीजेपी विधायक ढुल्लू महतो ने चंद्रप्रकाश चौधरी से मुलाकात की. ढुल्लू और चंद्रप्रकाश के रिश्ते काफी पुराने रहे हैं. ढुल्लू पहले आजसू में ही थे. फिर वे जेवीएम गये और जेवीएम से भाजपा का दामन थामा.

ढुल्लू ने चंद्रप्रकाश चौधरी से कमिटमेंट भी किया है कि हमारे विधानसभा क्षेत्र के शत-प्रतिशत साथ मिलेगा. पूरी तरह से गठबंधन धर्म का पालन होगा. वहीं गिरिडीह विधायक निर्भय शाहाबादी ने भी चंद्रप्रकाश चौधरी को 100 परसेंट साथ देने क कमिटमेंट किया है.

विपक्ष का साथ लेने की भी रणनीति

गिरिडीह लोकसभा सीट से आजसू की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी है. आजसू पार्टी इस अवसर को गंवाना नहीं चाहेगी. सीट पर जीत हासिल करने के लिये कुशल रणनीति का भी परिचय देना होगा. इसी रणनीति के तहत आजसू को बेरमो में विपक्ष के एक दल का भी साथ मिल सकता है.

इसे भी पढ़ेंःकांग्रेस की सातवीं सूची में 35 प्रत्याशियों के नामः राज बब्बर अब फतेहपुर सीकरी से लड़ेंगे चुनाव

सूत्रों के अनुसार, विपक्ष के कद्दावर नेता से भी कमिटमेंट हो चुका है. वहीं पार्टी सूत्रों के अनुसार, जीत का आंकड़ा भी तैयार कर लिया है. कहा जा रहा है कि गोमिया में आजसू का मजबूत जनाधार है.

टुंडी में आजसू के ही विधायक हैं. बाघमारा और गिरिडीह विधानसभा सीट से भाजपा विधायकों ने 100 फीसदी साथ देने का कमिटमेंट कर दिया है. वहीं बेरमो में विपक्ष का साथ मिलने की बात कही जा रही है.

‘एक बूथ पर 25 यूथ’ की रणनीति

आजसू गिरिडीह किला फतह करने के लिये ‘एक बूथ पर 25 यूथ’ तैनात करने की रणनीति पर काम कर रही है. लगभग 23 बूथों पर आजसू कार्यकर्ताओं को तैनात किया गया है. पार्टी सूत्रों के अनुसार 90 फीसदी बूथों पर कार्यकर्ताओं को जोड़ लिया गया है.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव 2019: बीजेपी की दूसरी सूची में 36 प्रत्याशियों के नाम, पुरी से संबित पात्रा होंगे…

इसके अलावा बुद्धिजीवी, महिला, छात्र इकाइयों के बीच पंचायत स्तर पर समन्वय स्थापित करने के लिए अलग-अलग समिति भी गठित की जायेगी. प्रचार-प्रसार, सामाजिक, राजनीतिक एवं मीडिया के सहयोगियों के बीच समन्वय स्थापित करने के लिए प्रखंड स्तर पर समिति गठित की जायेगी. केंद्रीय स्तर पर प्रेस, सोशल मीडिया एवं चुनाव संचालन के लिए भी समिति गठित होगी.

इसे भी पढ़ेंःइमरान खान ने पीएम मोदी के संदेश को पाकिस्तान की जनता तक पहुंचाया, कहा- नेशनल डे पर दी बधाई

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: