न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पुलिस की सक्रियता से मॉब लिंचिंग का शिकार होने से बचा युवक

173

Dumka: जरमुंडी थाना क्षेत्र के बोगली गांव में मंगलवार को बच्चा चोरी के आरोप में बिहार का एक युवक मॉब लिंचिंग का शिकार होने से बच गया. पुलिस व प्रशासन की सक्रियता से युवक की जान बची. घटना की सूचना मिलते ही एसडीपीओ अनिमेष नथानी, जरमुंडी इंस्पेक्टर विष्णुदेव चौधरी ने त्वरित पहल की और दल-बल के साथ घटनास्थल पहुंचे और सक्रिया दिखाते हुए स्थिति को संभाला. साथ ही मौके पर पहुंची जरमुंडी पुलिस ने घायल युवक को भीड़ से बचाकर इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया.

इसे भी पढ़ें: गिरिडीह आरईओ कार्यालय में आईटी का सर्वे, घंटों चली टैक्स गड़बड़ियों की पड़ताल

मानसिक रूप से बीमार है युवक, बच्‍चा चोरी के आरोप में ग्रामीणों ने बुरी तरह पीटा

सामुदायिक अस्‍पताल में डॉ दीनबंधु रक्षित ने घायल युवक का इलाज किया. मॉब लीचिंग से बचा युवक बिहार के बांका जिला के कोठान गांव का रहने वाला है. उसका नाम सोनू यादव और उम्र 35 साल बताया जा रहा है. थाना के एएसआई राजकुमार सिंह ने बताया कि बच्चा चोरी करने का आरोपी युवक सोनू बोगली गांव के बहियार में शौच के लिए गया था. उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं रहने से एक बच्ची से उसका नाम पूछ रहा था. इसी क्रम में कुछ ग्रामीणों द्वारा से गलतफहमी से बच्चा चोरी करने का शोर मचाया. जिससे स्थानीय लोग युवक को पकड़कर बुरी तरह से पीटने लगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: