JharkhandRanchi

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में झारखंड के कुल 55 AICC सदस्यों की रहेगी अहम भूमिका

  • कांग्रेस के इतिहास में पहली बार होगा राष्ट्रीय अध्यक्ष का ऑनलाइन चुनाव, करीब 1250 से 1300 मेंबर डालेंगे वोट

Ranchi : देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी कांग्रेस (करीब 135 साल पुरानी) का अगला राष्ट्रीय अध्यक्ष कौन होगा, इसके लिए ऑनलाइन चुनाव की तैयारी हो रही है. नये राष्ट्रीय अध्यक्ष के ऑनलाइन चुनाव में देश के सभी राज्यों के AICC मेंबर वोट करेंगे. जाहिर है कि झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी (JPCC) से जुड़े AICC मेंबर की भूमिका भी काफी अहम रहेगी.

वर्तमान में प्रदेश से AICC के कुल 55 सदस्य हैं. सभी सदस्य पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में वोटिंग करेंगे. बाकायदा इसके लिए प्रदेश के सभी मेंबरों का एक डिजिटल वोटर आइकार्ड भी जारी होगा. करीब एक माह पहले ही सभी मेंबरों से फोटो, मेल आदि दिल्ली मंगवा लिया गया है. नेशनल मीडिया में आयी खबरों के मुताबिक नये राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यकाल करीब 2 साल के लिए तय किया गया है. ऐसे में अगला पार्टी अध्यक्ष जो भी बनता है, तो उसका कार्यकाल 2022 तक होगा.

इसे भी पढ़ें:असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का 84 साल की उम्र में निधन

प्रदेश में कुल 55 नेता हैं AICC मेंबर, 39 हैं Elected

वर्तमान में JPCC के कुल 55 सदस्य ऐसे हैं, जो AICC के मेंबर हैं. इनमें से कुल 39 मेंबर (ओ पी लाल के निधन के बाद) ऐसे हैं, जो Elected हैं. वहीं Co-opted AICC मेंबरों की संख्या कुल 13 और Ex-Officio AICC मेंबरों की संख्या 3 है.

AICC Elected में शामिल मेंबर

अजय कुमार दुबे, आलमगीर आलम, शहजादा अनवर, अशोक चौधरी, बद्रीराम, बन्ना गुप्ता, बेंजामिन लकड़ा, भीम कुमार, चंद्रशेखर शुक्ला, चंद्रशेखर दुबे, धीरज प्रसाद साहू, फुरकान अंसारी, गायत्री पासवान, गीताश्री उरांव, हरि मोहन मिश्रा, जयप्रकाश गुप्ता, ज्योति सिंह मथारू, केएन त्रिपाठी, कालीचरण मुंडा, केशव महतो कमलेश, कृष्णानंद झा, मदन महतो, मणि शंकर, मंजू कुमारी, मन्नान मलिक, नीलम नाग, निर्मला देवी, प्रदीप तुलसियान, प्रणव झा, राजेश कश्यप, रमा खलखो, रामेश्वर उरांव, रविंद्र सिंह, संगीता जायसवाल, संतोष सिंह, सुबोध कांत सहाय, सुल्तान अहमद, सुशील मरांडी, तिलकधारी सिंह शामिल हैं.

Co-opted AICC में शामिल मेंबर

Co-opted AICC मेंबरों में अभिलाष साहू, आनंदी ब्राह्रा, अनूप सिंह, बादल पत्रलेख, विनय सिन्हा दीपू, गोपाल साहू, इरफान अंसारी, जयशंकर पाठक, मदनमोहन शर्मा, मानस सिन्हा, मनोज कुमार, संजय लाल पासवान, तनवीर आलम शामिल हैं.
Ex-Officio AICC में आभा सिन्हा, कुमार गौरव और नेली नाथन शामिल है.

इसे भी पढ़ें: ट्रेड यूनियनों का केंद्र की मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ हल्ला बोल, 26 को देशव्यापी हड़ताल

अधिकांश मेंबर राहुल गांधी को ही चाहते हैं राष्ट्रीय अध्य़क्ष

AICC से जुड़े प्रदेश स्तरीय कुछ नेताओं से newswing ने बातचीत की. उन्होंने बताया कि अध्यक्ष पद के लिए खड़े प्रत्याशियों को लेकर राय मांगने पर वे अपना राय देंगे. हालांकि अधिकांश नेताओं का यह भी मानना है कि बिना गांधी परिवार के कांग्रेस को चलाना मुश्किल है. बीजेपी का राहुल गांधी से डर भी इसी को इंगित करता है.

अगर गांधी परिवार के साथ विशेष कर राहुल गांधी के साथ कोई अन्य भी राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए खड़े होते हैं, तो AICC के अधिकांश मेंबर भी राहुल गांधी को ही अपना राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनेंगे. चुनाव तिथि को लेकर AICC के एक मेंबर का कहना है कि दिल्ली में कोविड-19 का संक्रमण अगर नहीं बढ़ता, तो दिसंबर के मध्य तक चुनाव हो जाता. लेकिन अब यह करीब 1 से 2 माह तक बढ़ सकता है.

इसे भी पढ़ें: नक्सलियों की गुरिल्ला आर्मी सप्ताह बनी चुनौती, सभी जिलों में अलर्ट

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: