BusinessJharkhandRanchi

कृषि उपज विधेयक के विरोध में तख्ती जुलूस का आयोजन 21 को

Ranchi: झारखण्ड राज्य कृषि उपज और पशुधन विपणन (संवर्धन और सुविधा) विधेयक, 2022 के विरोध में फेडरेशन ऑफ झारखण्ड चैंबर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्रीज की ओर से लगातार आंदोलन की रणनीति तैयार की जा रही है. इसी क्रम में गुरुवार को चैंबर की बैठक हुई. इसकी जानकारी देते हुए चैंबर अध्यक्ष धीरज तनेजा ने कहा कि बैठक के दौरान आंदोलन के आगे की रणनीतियां भी तय की गई. जहां फेडरेशन चैंबर की ओर से 21 मई को इस आंदोलन को गति देने के लिए एक तख्ती जुलूस भी चैंबर भवन से अल्बर्ट एक्का चौक तक निकाली जायेगी.

चैंबर के निवर्तमान अध्यक्ष प्रवीण जैन छाबडा ने यह जानकारी दी कि पंडरा बाजार के सभी व्यवसायी आंदोलन को लेकर बहुत सशक्त और मजबूती से कार्य कर रहे हैं. बाजार मंडी में किसी भी प्रकार की आवक या ट्रकों का आना कम हो गया है. चैंबर के पूर्व अध्यक्ष अर्जुन प्रसाद जालान ने बैठक के दौरान यह जानकारी दी कि फेडरेशन के आहवान पर पूरे प्रदेश में सभी व्यापारिक जिला संगठनों द्वारा मजबूती से प्रयास किये जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:Shri Krishna Janmabhoomi जमीन पर बनी शाही ईदगाह को हटाने के मांग संबंधी याचिका सुनवाई के लिए मंजूर, सर्वे का रास्ता हुआ साफ

Catalyst IAS
SIP abacus

उन्होंने सभी व्यवसायिक संगठनों के प्रतिनिधियों से यह अपील की कि हमें यह एकता बनाये रखने की जरूरत है. जालान ने प्रदेश के व्यापारियों से निवेदन किया कि उनके प्रयासों से आंदोलन सफलतापूर्वक चल रहा है.

MDLM
Sanjeevani

महासचिव राहुल मारू, पूर्व अध्यक्ष अर्जुन प्रसाद जालान, विनय अग्रवाल, दीपक कुमार मारू, प्रवीण जैन छाबडा, राइस मिलर्स एसोसियेशन की ओर से मनीष साहू, सुशील पोद्दार उपस्थित रहे.

इसे भी पढ़ें:झारखंड पंचायत चुनाव परिणाम : जानें किस जिले में महिला संभालेंगी नेतृत्व तो कहां पुरुषों के हाथों होगी कमान

Related Articles

Back to top button