न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गोला में धरने पर बैठी पारा शिक्षिका को पड़ा दिल का दौरा, रांची में इलाज के दौरान मौत

1,971

Ranchi : विगत एक महीने से झारखंड के पारा शिक्षक अपनी मांगों के समर्थन में आंदोलनरत हैं. इसी क्रम में शुक्रवार को रामगढ़ जिला के गोला प्रखंड स्थित उर्दू कन्या प्राथमिक विद्यालय, हुप्पू की पारा शिक्षिका जीनत खातून का दिल का दौरा पड़ने के कारण निधन हो गया. जीनत खातून पिछले कई दिनों से गोला प्रखंड कार्यालय के समक्ष पर धरने पर बैठी थीं. गुरुवार को उनके सीने में अचानक तेज दर्द हुआ, जिसके बाद उन्हें रांची के मेदांता अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. शुक्रवार की सुबह मेदांता अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. जीनत खातून के निधन की सूचना जैसे ही गोला प्रखंड शिक्षा निदेशालय तक पहुंची, शिक्षकों की आंखें नम हो गयीं. शिक्षकों का कहना था कि जीनत ग्रामीण स्तर पर काफी अच्छी शिक्षिका थीं, उनके निधन से गोला के लोगों ने बेहतर शिक्षिका खो दिया है.

अंतिम सांस तक संघर्ष की लड़ाई लड़ी जायेगी : पारा शिक्षक

पारा शिक्षकों के नेताओं ने न्यूज विंग को बाताया कि रघुवर सरकार पारा शिक्षकों पर लाख जुल्म कर ले, लेकिन पारा शिक्षकों का आंदोलन जारी रहेगा. जीनत खातून जैसी शिक्षिका की कुर्बानी बेकार नहीं होने देंगे. पारा शिक्षकों की मांगों को जब तक सम्मानपूर्वक नहीं मान लिया जाता है, तब तक पूरे राज्य के पारा शिक्षक आंदोनरत रहेंगे.

silk_park

इसे भी पढ़ें- 90 लाख खर्च कर RMSW 33 वार्डों में करती है सफाई, जबकि 20 वार्डों में निगम करता है 3 करोड़ खर्च

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड से महंगी है झारखंड में बिजली, अब वितरण निगम को 43 लाख कंज्यूमर से चाहिए…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: