न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चुटिया में एक शख्स ने की आत्महत्या, पेड़ से लटका मिला शव

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा रिम्स.

76

Ranchi: रांची के चुटिया थाना क्षेत्र के द्वारिकापुरी खिजुरी तालाब के पास शुक्रवार सुबह पेड़ से लटका एक शख्स का शव बरामद हुआ. मृतक की पहचान शंकर महली नाम के व्यक्ति के तौर पर हुई, जो हटिया तालाब के पास रहता था. बताया जा रहा है कि रस्सी के सहारे शंकर ने पेड़ की डाली से फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है.

mi banner add

इसे भी पढ़ेंःक्या अपने कार्यक्रमों की वजह से आजसू की स्वाभिमान यात्रा में शामिल नहीं हुए मंत्री चंद्र प्रकाश चौधरी !

स्थानीय लोगों ने देखा शव

मिली जानकारी के अनुसार, द्वारकापुरी खिजुरी तालाब के पास पेड़ से लटकते हुए शंकर महली के शव को स्थानीय लोगों ने सुबह-सुबह देखा. जिसके बाद चुटिया थाना को इसकी सूचना दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया.

मायके में रहती है मृतक की पत्नी

Related Posts

गिरिडीह : बार-बार ड्रेस बदलकर सामने आ रही थी महिलायें, बच्चा चोर समझ लोगों ने घेरा

पुलिस ने पूछताछ की तो उन महिलाओं ने खुद को राजस्थान की निवासी बताया और कहा कि वे वहां सूखा पड़ जाने के कारण इस क्षेत्र में भीख मांगने आयी हैं

मृतक की पत्नी प्रमिला देवी ने बताया कि उनका घर टूट जाने के कारण वो लोग भाड़े का मकान तलाश रहे थे. घर मिलने पर फिलहाल महिला अपने मायके में रह रही थी, जबकि शंकर अपनी बूआ के घर रहता था. शंकर की पत्नी का कहना है कि ऐसी कोई दूसरी बड़ी समस्या नहीं थी. ना ही हमारे रिश्ते में किसी तरह की खटास थी, फिर उसके पति ने ऐसा कदम क्यों उठाया, इस सवाल का जवाब उसके पास भी नहीं है.

इसे भी पढ़ें- रामकृपाल कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड ने विधानसभा भवन में कई काम किये सबलेट

देर रात तक जुआ खेल रहा था शंकर

जानकारी ये भी मिली है कि शंकर महली देर रात तक ताश खेल रहा है. ताश खेलने के बाद वो कहीं चल गया. जिसके बाद सुबह उसकी लाश मिली. पुलिस भी इसे आत्महत्या ही मान रही है. हालांकि, चुटिया थाना प्रभारी अनिल कुमार करण ने कहा कि व्यक्ति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. आगे की तफ्तीश जारी है.

इसे भी पढ़ें- इस औरत ने जो किया या कर सकती है, वह कोई मर्द भी नहीं कर सका : प्रो. रीता वर्मा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: