Lead NewsNationalUttar-Pradesh

लखनऊ में जिस प्रदर्शन में शामिल हुईं थीं प्रियंका गांधी उसको लेकर मामला दर्ज

प्रशासन से इसके लिए कोई अनुमति नहीं मांगी थी, नियमों के उल्लंघन का आरोप

Lucknow : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मुकदमा दर्ज किया गया है. आरोप है कि कांग्रेस नेताओं ने प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ शुक्रवार को हजरतगंज के जीपीओ पार्क में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरने पर बैठने के लिए प्रशासन से अनुमति नहीं ली थी. इसे लेकर उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू सहित तीन नामजद लोगों के खिलाफ शनिवार को हजरतगंज थाने में मामला दर्ज किया गया है. हालांकि इस प्राथमिकी में प्रियंका गांधी का नाम नहीं है.

इसे भी पढ़ें :पलामू : सड़क लूट की योजना विफल, देसी कट्टा और कारतूस के साथ चार लुटेरे गिरफ्तार

लखनऊ के पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर ने मीडिया को बताया कि शुक्रवार को जीपीओ पार्क स्थित गांधी प्रतिमा के सामने कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू अपने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठे थे. आयुक्त के मुताबिक, उन्होंने न तो प्रशासन को इस धरने के बारे में पहले कोई जानकारी दी थी और न ही प्रशासन से इसके लिए कोई अनुमति मांगी थी.

 

advt

सरकारी संपत्ति को भी पहुंचाया था नुकसान

इसके अलावा, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जीपीओ पार्क स्थित सरकारी संपत्ति लोहे की जाली को भी नुकसान पहुंचाया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं कार्यकर्ताओं ने महामारी अधिनियम का भी उल्लंघन किया. पुलिस आयुक्त ठाकुर के अनुसार, इस मामले में लल्लू, कांग्रेस नेता वेद प्रकाश त्रिपाठी तथा दिलजीत सिंह के खिलाफ नामजद तथा 500 से 600 अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया गया हैं. उन्होंने बताया कि प्राथमिकी में प्रियंका गांधी का नाम नहीं है.

इसे भी पढ़ें :पुलिस ने पहाड़ों पर लंबा समय बिताया, सूचना के आधार पर की घेराबंदी, तब मिली सफलताः डीजीपी

जीपीओ पार्क में हुआ था धरना

बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी लखनऊ के दौरे पर हैं. शुक्रवार को प्रियंका ने सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ हजरतगंज पहुंचकर जीपीओ पार्क में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने सरकार के खिलाफ मौन धारण करके वहीं धरना शुरू कर दिया था. कांग्रेस प्रवक्ता अशोक सिंह के अनुसार, प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को सूबे में महिलाओं पर अत्याचार, अराजकता, खराब कानून-व्यवस्था, निरंकुश प्रशासन और पुलिस के खिलाफ धरना दिया था.

लखनऊ में प्रियंका ने शुक्रवार की शाम को संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया था कि उत्तर प्रदेश में लोकतंत्र पर हमला हो रहा है और उनके (मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ) पीछे मोदी जी का हाथ है. वह यहां आकर उन्हें बधाई दे रहे हैं. प्रियंका ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में लोकतंत्र का चीरहरण हो रहा है. कल प्रधानमंत्री जी बनारस आए. उन्होंने सबसे पहले तो योगी जी को प्रमाण पत्र दिया कि कोरोना की दूसरी लहर में उन्होंने कितना अच्छा काम किया, जबकि योगी सरकार बुरी तरह विफल साबित हुई थी

इसे भी पढ़ें : हजारीबाग : कोरोना की संभाविक तीसरी लहर को लेकर विधायक मनीष जायसवाल गंभीर, मेडिकल कॉलेज अस्पताल को व्यवस्था सुधार के निर्देश

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: