न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पिछले चार साल में राज्य से 80 प्रतिशत उग्रवाद का खात्मा हुआ : रघुवर दास

जैप-1 ग्राउंड में 18वें झारखंड स्थापना दिवस परेड एवं अलंकरण समारोह-2018 का आयोजन

28

Ranchi :  झारखंड के सर्वांगीण विकास में पुलिस की भूमिका महत्वपूर्ण रही है. राज्य में स्थिर सरकार बनने के बाद प्रत्येक सेक्टर में निरंतर विकास हो रहा है. पुलिस और आम जनता के सहयोग के कारण राज्य भ्रष्टाचारमुक्त, उग्रवादमुक्त, अपराधमुक्त की दिशा में अग्रसर हो सका है. पिछले चार वर्षों में झारखंड से 80 प्रतिशत उग्रवाद का खात्मा किया जा चुका है. पूर्ण विश्वास है कि शेष 20 प्रतिशत उग्रवाद को भी झारखंड पुलिस उखाड़ फेंकेगी. पुलिसकर्मियों का अथक प्रयास का ही परिणाम है कि आज झारखंड को तीव्र गति से विकास करनेवाले राज्यों की श्रेणी में लाकर खड़ा करने में सफल हो पाये हैं. उक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने डोरंडा स्थित जैप-1 ग्राउंड में आयोजित 18वें झारखंड स्थापना दिवस परेड एवं अलंकरण समारोह 2018 को संबोधित करते हुए कहीं.

इसे भी पढ़ें- देखें वीडियो : कैसे बीजेपी नेता ने की खुलेआम फायरिंग, फेसबुक पर किया अपलोड, फौरन हटाया

पुलिसकर्मियों को हर साल मिलेगा 13 महीने का वेतन, प्रक्रिया प्रगति पर

पर्व, त्योहारों एवं विपरीत परिस्थितियों में भी पुलिसकर्मी बिना कोई छुट्टी लिये लगातार आम जनता की सुरक्षा एवं विधि-व्यवस्था के संधारण के लिए कर्तव्य स्थल पर तैनात रहते हैं. राज्य सरकार द्वारा पूर्व में यह घोषणा की गयी थी कि झारखंड में पुलिसकर्मियों को हर वर्ष 13 माह का वेतन दिया जायेगा. राज्य सरकार द्वारा किया गया यह वादा जरूर पूरा होगा. 13 महीने के वेतन निर्धारण की प्रक्रिया प्रगति पर है, आनेवाले नये वर्ष में पुलिसकर्मियों को यह खुशखबरी मिलने की संभावना है.

इसे भी पढ़ें- रोज कटेगी 8 घंटे बिजली, डीवीसी का बकाया 3527.80 करोड़

पुलिस को भी टेक्नोलॉजी का पूरा उपयोग करना चाहिए

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि सरकार बनने के बाद आम जनता की सुरक्षा एवं विधि-व्यवस्था के संधारण हेतु राज्य में 15 हजार पुलिसकर्मियों की नियुक्ति की गयी है. राज्य में अपराधमुक्त व्यवस्था लागू करना सरकार की प्राथमिकता रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्ञान आधारित युग में पुलिस को भी टेक्नोलॉजी का पूरा उपयोग करना चाहिए. राज्य एवं देश में साइबर क्राइम चुनौती के तौर पर उभर रहा है. साइबर क्राइम जैसी चुनौतियों से निपटने के लिए राज्य सरकार द्वारा विभिन्न चिह्नित जगहों पर साइबर थाना भी बनाया गया है. साइबर क्राइम को आधुनिक तकनीक अपनाकर ही खत्म किया जा सकेगा. पुलिस विभाग अपने मानव संसाधन को दक्षतायुक्त बनाये, ताकि वे साइबर क्राइम का मुंहतोड़ जवाब दे सकें. मुख्यमंत्री ने कहा कि शहर में अमन-चैन रहे, इस हेतु सभी चिह्नित चौक-चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाये गये हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि शहीद हुए पुलिसकर्मियों के वैसे परिवार अथवा आश्रितों को राज्य सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास दिया जायेगा, जो आवासहीन हैं. महिला पुलिसकर्मी एवं पुरुष पुलिसकर्मियों के आवासन एवं अन्य सुविधा हेतु अलग-अलग बैरक का निर्माण कराया जा रहा है. महिला पुलिसकर्मियों के लिए आवासन के लिए कुल 28 स्थानों पर महिला बैरक का निर्माण कराया जा चुका है.

102 पुलिस पदाधिकारी और कर्मी किये गये पुरस्कृत

मुख्यमंत्री द्वारा अलंकरण दिवस 2018 के अवसर पर झारखंड पुलिस के कुल 102 पदाधिकारियों और कर्मियों को विभिन्न पुरस्कारों से नवाजा गया. इन पुरस्कारों में विशिष्ट सेवा के लिए दो पदाधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस पदक, वीरता के लिए कुल आठ पदाधिकारी और आरक्षी कर्मियों को पुलिस पदक, सराहनीय सेवा के लिए कुल 28 पदाधिकारी और आरक्षी कर्मियों को पुलिस पदक सहित विशिष्ट सेवा के लिए झारखंड राज्यपाल पदक हेतु एक पदाधिकारी, वीरता के लिए कुल 35 पदाधिकारी और आरक्षी कर्मियों को झारखंड मुख्यमंत्री पदक तथा सराहनीय सेवा के लिए कुल 20 पदाधिकारी और आरक्षी कर्मियों को झारखंड पुलिस पदक दिया गया. अलंकरण समारोह के दौरान संबंधित पुलिस पदाधिकारी एवं आरक्षीकर्मी मौजूद थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी नौकरी में सम्मान प्राप्त करना बहुमूल्य क्षण होता है. आज का दिन बहुत ही यादगार दिन है कि आप अपनी कर्तव्य निष्ठा से इस बहुमूल्य क्षण का सौभाग्य प्राप्त कर रहे हैं.

पिछले चार साल में राज्य से 80 प्रतिशत उग्रवाद का खात्मा हुआ : रघुवर दास

इसे भी पढ़ें- 18 वर्षों में भी नहीं बन पायी नयी राजधानी, कल झारखंड मनायेगा अपनी स्थापना की 18वीं वर्षगांठ

छह को मिला नियुक्ति पत्र

शहीदों के परिजनों को इस दौरान अनुकंपा पर नियुक्ति पत्र दिया गया. इसमें राज्य भर के छह युवाओं को नियुक्ति पत्र मिला. इनमें महेश तिर्की, संतोष कुमार, सीतेश कुमार राय, जयराम महतो, आनंद कुमार भारती और मंटू किस्कू को नियुक्ति पत्र दिया गया. कार्यक्रम के दौरान जैप-1 ग्राउंड में स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का भी उद्घाटन किया गया.

पिछले चार साल में राज्य से 80 प्रतिशत उग्रवाद का खात्मा हुआ : रघुवर दास

सात शहीदों के परिजनों को 25-25 हजार के चेक और शॉल देकर किया सम्मानित

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कुल सात शहीदों के परिजनों को 25-25 हजार रुपये की राशि का चेक और शॉल देकर सम्मानित किया. उन्होंने कहा कि मैं नमन करता हूं उन माताओं-बहनों को जिन्होंने अपना बेटा, अपना पति राज्य एवं देश की रक्षा के क्रम में खोया है. उन्होंने शहीदों के परिवार एवं आश्रितों को भरोसा दिया कि झारखंड का यह दास हर सुख-दुःख में आपके साथ सदैव खड़ा रहेगा.

पिछले चार साल में राज्य से 80 प्रतिशत उग्रवाद का खात्मा हुआ : रघुवर दास

इसे भी पढ़ें- माओवादियों का तांडवः सड़क निर्माण में लगी मशीनों और वाहनों को फूंका

ये थे मौजूद

इस अवसर पर राज्य के मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल, डीजी होमगार्ड बीबी प्रधान, डीजी जैप नीरज सिन्हा, डीजी मुख्यालय पीआरके नायडू, पुलिस पदक से सम्मानित सभी वरीय एवं कनीय पुलिस पदाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी, शहीद पुलिसकर्मियों के परिजन एवं परेड में शामिल महिला एवं पुरुष पुलिसकर्मी सहित अन्य लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: