JharkhandLead NewsRanchi

झारखंड विधानसभा में राष्ट्रपति चुनाव के लिए झारखंड विधानसभा में 80 विधायकों ने डाला वोट

भाजपा के अनंत ओझा ने पहला, सरयू राय ने डाला आखरी वोट

Ranchi : झारखंड के 80 विधायकों ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए झारखंड विधानसभा में वोटिंग की. 4 बज कर 5 मिनट पर अंतिम वोट निर्दलीय विधायक सरयू राय ने किया. पहला वोट भाजपा विधायक अनंत ओझा ने कास्ट किया. झारखंड विधानसभा में निर्वाचित सदस्यों की संख्या 81 है. इनमें से एक विधायक सिंदरी के विधायक इंद्रजीत महतो बीमार हैं. इसलिए वे मतदान करने नहीं पहुंचे. सबसे पहले वोट देने सुबह 10 बजे भाजपा के विधायक पहुंचे. पहला वोट साहिबगंज के विधायक अनंत ओझा ने डाला.

इसके बाद बीजेपी विधायक नवीन जयसवाल और भानु प्रताप शाही ने वोटिंग की. 10:30 बजे के बाद एनडीए के सभी 27 विधायक बस से विधानसभा पहुंचे और मतदान किया. दोपहर में कांग्रेस के विधायक वोट देने आये. फिर झामुमो के विधायकों ने विधानसभा पहुंच कर वोटिंग की.

इसे भी पढ़ें:कांग्रेस ने अमित मालवीय, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी व प्रीति गांधी के विरुद्ध कराई प्राथमिकी दर्ज

द्रौपदी मुर्मू को 75 फीसदी वोट मिलने की संभावना

राष्ट्रपति चुनाव में झारखंड की पूर्व राज्यपाल और nda प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में लगभग 75 प्रतिशत से ज्यादा वोट पड़े हैं. भाजपा के 25, आजसू के 2, झमुमो के 30 विधायकों के अलावा निर्दलीय विधायक सरयू राय और अमित यादव का वोट भी द्रौपदी मुर्मू को गया है. यशवंत सिन्हा को कांग्रेस के अलावा भाकपा माले के विनोद सिंह का वोट मिला है.

माले विधायक बिनोद सिंह ने मतदान के बाद कहा कि दो ही प्रत्याशी हैं. मेरे पास कोई ऑप्शन नहीं है. भाजपा प्रत्याशी को वोट नहीं कर सकता. ना चाहते हुए मजबूरी में यशवंत सिन्हा को वोट करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें:सावधान! थोड़ी देर में खतरे के निशान तक पहुंच सकता है खरकई का जलस्तर, पानी में उतरने से बचें

निर्दलीय विधायक सरयू राय ने कहा कि वर्ष 2010 में शिबू सोरेन nda के समर्थन से राज्यसभा गये थे, लेकिन संसद में एटॉमिक डील पर उन्होंने कांग्रेस का साथ दिया था. उसके बाद झारखंड की सरकार गिर गयी थी. कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में यदि कांग्रेस झमुमो के निर्णय के बाद कोई स्टैंड लेती तो यशवंत सिन्हा के बारे में सोचा जा सकता था. लेकिन कांग्रेस की लाचारी साफ दिख रही है. कहा कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट डाले.

उनके बयान से यह स्पष्ट हो गया कि उनका भी वोट द्रौपदी मुर्मू को ही गया है. इसके अलावा यह भी जानकारी मिल रही है कि कांग्रेस के कुछ विधायकों का भी समर्थन द्रौपदी मुर्मू को मिला है. खास कर कांग्रेस के कुछ आदिवासी और महिला विधायकों ने द्रौपदी मुर्मू को वोट किया है. यदि ऐसा हुआ तो झारखंड से द्रौपदी मुर्मू 80 प्रतिशत से ज्यादा वोट पाने में सफल होंगी.

इसे भी पढ़ें:अधिवक्ता राम प्रवेश सिंह हत्याकांड में पांच को उम्र कैद

Related Articles

Back to top button