West Bengal

बोनस की मांग को लेकर हड़ताल पर जायेंगे चाय बागान के 75 हजार श्रमिक

Darjeeling: दार्जिलिंग की पहाड़ियों पर चाय बागानों में काम करनेवाले श्रमिक दुर्गा पूजा में भी बोनस नहीं मिलने को लेकर शुक्रवार को एकदिवसीय हड़ताल करेंगे.

Jharkhand Rai

इसमें 75 हजार श्रमिकों के शामिल होने की संभावना है. इसके पहले गुरुवार को बड़ी संख्या में श्रमिकों ने दार्जिलिंग बस स्टैंड के पास एकजुट होकर अनशन किया.

इसे भी पढ़ें – #ODF झारखंड का सच : कागजों पर #Toilet निर्माण दिखा राशि भी कर दी खर्च, जमीन पर सिर्फ गड्ढे और अधूरी दीवारें

चाय बागानों में काम होगा बंद

शहर में सुबह 10 बजे से ही चाय बगान के श्रमिक दार्जिलिंग बस स्टैंड के पास एकत्रित हो गये थे. उसके बाद सभी यूनियनों ने संयुक्त बैठक कर निर्णय लिया कि शुक्रवार को सभी चाय बागानों में काम बंद रखा जायेगा.

Samford

इससे बागान में चाय उत्पादन बड़े पैमाने पर प्रभावित हो सकता है. दार्जिलिंग के करीब 87 चाय बागानों की सभी सात कर्मचारी यूनियनों ने 12 घंटे की हड़ताल का आह्वान किया है.

इसे भी पढ़ें – बच्ची के साथ #BDO द्वारा मारपीट और पुलिस कस्टडी में गगन नायक की मौत पर #NHRC में की गयी #Complain

बागानों के प्रबंधन तथा यूनियन नेताओं के बीच बोनस को लेकर वार्ता विफल होने के बाद हड़ताल करने का निर्णय लिया गया है. बताया गया है कि चार अक्टूबर को सुबह छह से शाम छह बजे तक ‘बंद’ रखा जायेगा.

दार्जिलिंग भारतीय चाय संघ (डीआइटीए) के सचिव मोहन छेत्री ने कहा कि यूनियनों ने 20 प्रतिशत बोनस की मांग की है. प्रबंधन ने सिर्फ 12 प्रतिशत बोनस देने की पेशकश की है.

उन्होंने कहा कि यूनियनों और चाय बागानों के प्रबंधन की 17 अक्टूबर को बैठक होगी, जिसमें बोनस पर अंतिम फैसला लिया जा सकता है लेकिन यह बहुत दुर्भाग्यजनक है कि दुर्गा पूजा शुरू हो चुकी है.

एक दिन बाद ही राज्यभर में लोग पूजा घूमेंगे लेकिन चाय बागान के श्रमिकों को कुछ भी नहीं दिया गया.

इसे भी पढ़ें – देखें वीडियोः शशिभूषण मेहता के #BJPमें शामिल होने पर बीजेपी कार्यालय में जमकर मारपीट, वीडियो वायरल

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: