न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

75 वर्ष का हुआ रांची एक्सरे क्लिनिक, अंग्रेजों के जमाने से कर रहा मरीजों की सेवा

13

NEWSWING

Ranchi, 09 December : राजधानी स्थित रांची एक्सरे क्लिनिक किसी भी पहचान का मोहताज नहीं है. जब देश में अंग्रेजों का शासन था उस दौर में डॉ साकेत पाल गरीबों के लिए मसीहा बनकर सामने आये. उस दौर में एक्सरे कराना सिर्फ अमीरों के बस की बात हुआ करती थी. 1942 के दौर में   रांची में एक भी एक्सरे मशीन नहीं था. लोगों को एक्सरे के लिए बंगाल जाना पड़ता था. लोगों की तकलीफ को देखते हुए डॉ साकेत निवास ने कुछ सोचा. रांची एक्सरे क्लिनिक के नाम से छोटानागपुर की पहली एक्सरे क्लिनिक 1944 ई में खोला. डॉ ने शिशिर कुमार बासु को मार्गदर्शक बनाया. उस दौर से आज तक रांची एक्सरे क्लीनिक लोगों की पसंदीदा क्लिनिक है. लम्बा सफर तय करते हुए क्लिनिक आज अपना 75वां स्थापना दिवस मना रहा है. आज भी क्लिनिक में वह एक्सरे मशीन मौजूद है जो शुरुवात में था.

उचित मूल्य और बेहतर जांच सुविधा के लिए क्लिनिक कृत संकल्पित

एस के पाल ने बताया कि क्लिनिक ने कई कीर्तिमान स्थापित किया. हमेशा ही हम लोगों की सेवा करते आये हैं और आगे भी रांची की जनता और अन्य शहरों से आने वाले जनता की सेवा करते रहेंगे. उन्होंने कहा कि मरीजों को उचित मूल्य पर भरोसेमंद और बेहतर जांच सुविधा देने के लिए क्लिनिक कृत संकल्पित है.

शनिवार को क्लिनिक में स्थापना दिवस समारोह का आयोजन किया गया. इस मौके पर क्लिनिक का सबसे पुराना एक्सरे मशीन को प्रदर्शनी में लगाया गया. साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया. कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्जवलित कर की गयी. सममरोह के दौरान पाल परिवार, शहर के जाने माने डॉक्टर समेत कई गणमान्य लोग मौजूद रहे. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: