BiharJharkhandLead NewsNational

कोरोना की दूसरी लहर में 719 डॉक्टरों ने गंवाई जान, बिहार में सबसे अधिक 111 चिकित्सकों की गयी जान

झारखंड में 39 की गयी जान, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने जारी किये हैं आंकड़े

Uday Chandra Singh

New Delhi : कोरोना की दूसरी लहर के दौरान देश भर में 719 डॉक्टरों की जान गई. बिहार में सबसे ज्यादा डॉक्टरों की जान गई. दिल्ली में जहां 109 डॉक्टरों की जान गई वहीं बिहार में 111 डॉक्टरों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. जबकि झारखंड में कोरोना की दूसरी लहर में 39 डॉक्टरों को अपने प्राण गंवाने पड़े. ये आंकड़े इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ( IMA) ने आज ज़ारी किए हैं.

advt

इससे पहले 3 जून को आईएमए ने बताया था कि दूसरी लहर में 624 डॉक्टरों की जान जा चुकी है. अब IMA द्वारा जारी की गई अपडेटेड आंकड़ों के मुताबिक, “दूसरी लहर के दौरान अब तक राजस्थान में 43, झारखंड में 39, गुजरात में 37, तेलंगाना में 36, आंध्र प्रदेश में 35, तमिलनाडु में 32, ओडिशा में 28, केरल में 24, महाराष्ट्र में 23 और मध्य प्रदेश में 16 डॉक्टरों की मौत हो चुकी है.

इसे भी पढ़ें :अगर स्नातक के साथ 10 वीं में है 60 अंक, तो बायजू में कर सकते हैं 50 हजार प्रतिमाह की जॉब

कोविड शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग

हाल ही में IMA ने हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे एक पत्र में कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में जान गंवाने वाले डॉक्टरों को उनके बलिदान के लिए कोविड शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग की थी.IMA ने जान गंवाने वाले डॉक्टरों के परिवारों को सरकार द्वारा उचित मदद दिए जाने की भी मांग की थी. IMA ने संक्रमण से मरने वाले डॉक्टरों के परिवार की मदद के लिए कोविड शहीद कोष बनाया है.

इसे भी पढ़ें :Jharkhand News : MANREGA के 53 हजार लंबित कुओं के निर्माण के लिए सामग्री मद में जिलों को मिले 29.55 करोड़

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: