न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

7 से 8 लाख रूपये में लाभुकों को मिलेंगे फ्लैट्स, निगम ने मांगा आवेदन

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत लाभुकों को करना होगा निःशुल्क पंजीकरण

27

Ranchi: रांची नगर निगम की ओर से शहर में रहने वाले गरीब लोगों को अब सस्ते आवास की सौगात देने की तैयारी की जा रही है. लोगों को यह सौगात करीब 7 से 8 लाख रूपये खर्च कर मिल सकती है. प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत फ्लैट्स बनाये जाने है. इसके लिए निगम ने अपने क्षेत्र में रहने वाले आवासहीन परिवारों के इच्छुक लाभुकों से आवश्यक दस्तावेजों के साथ आवेदन की मांग की है.

हालांकि योजना के तहत प्रति आवास लाभुक को एक निर्धारित राशि का अंशदान ही भुगतान किया जाना है. साथ ही योजना का लाभ उन्हीं लाभुकों को मिलेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग EWS के होंगे. जिनकी वार्षिक आय अधिकतम 3 लाख रूपये तक होगी. योजना का लाभ लेने के लिए लाभुक को शहरी एवं आवास मंत्रालय के वेबसाइट www.pmyamis.gov.in में citizen assessment के माध्यम से निःशुल्क पंजीकरण कराना होगा. लाभुकों को प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के विभिन्न घटकों में से केवल एक का घटक का लाभ मिल सकेगा.

आये आवेदन के बाद निर्धारित होगी फ्लैट्स की संख्या

इस योजना के तहत कितने फ्लैट्स का निर्माण किया जाना है, उसकी संख्या अभी निर्धारित नहीं की गयी है. योजना का काम देख रहे निगम के सिटी मैनेजर विजेंद्र का कहना है कि यह संख्या लाभुकों द्वारा दिये आवेदन के बाद निर्धारित की जाएगी. हालांकि उन्होंने यह जरूर कहा कि शहर को स्लम फ्री किये जाने की सरकार की योजना के तहत ही योजना का निर्माण किया जाना है. ताकि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारा जा सके.

देने होंगे 1.50-2.50 लाख

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के घटक-1 के तहत निगम क्षेत्र में स्लम में रहने वालों के पुनर्वास हेतु जिन आवासों का निर्माण किया जाना है, उसकी लागत प्रति आवास लगभग 7 से 8 रूपये निर्धारित है. हालांकि इस योजना के लिए प्रति आवास लाभुक को अंशदान लगभग 1.50 से 2.50 लाख तक देना होगा.

वहीं योजना के घटक-3 के तहत आवासहीन शहरी गरीबों को आवास उपलब्ध कराने के लिए जिन आवास का निर्माण किया जाना है, उसकी भी लागत प्रति आवास 7 से 8 लाख रुपये निर्धारित है. लेकिन इस योजना के तहत प्रति आवास लाभुक का अंशदान लगभग 4.50 से 5.50 लाख तक देय होगा.

इसे भी पढ़ेंःधनबाद एसडीओ ने पत्रकार के साथ की मारपीट, फिर बोला- सॉरी

इसे भी पढ़ेंःसमरेश सिंह की राजनीतिक सल्तनत का नया चेहरा होंगे बेटे संग्राम सिंह, धनबाद लोकसभा क्षेत्र से करेंगे दो-दो हाथ

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: