न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

6th JPSC: 326 पदों में नियुक्ति के लिए 6103 उम्मीदवारों की जगी आश

1,148

Ranchi: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब छठी जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा से 326 पदों में नियुक्ति के लिए 6103 उम्मीदवारों की आश जग गयी है.

सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि मुख्य परीक्षा का परिणाम पहली पीटी परीक्षा में सफल 6103 उम्मीदवारों की संख्या के आधार पर ही जारी किया जायेगा.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें- #TerrorFunding में ट्रांसपोर्टर सुदेश केडिया की गिरफ्तारी से कई पुलिस अफसरों में बढ़ी बैचेनी

अब तक क्या हुआ

छठी जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के लिए पहली बार वर्ष 2016 में विज्ञापन निकाला गया. इस विज्ञापन में 326 पदों में रिक्तियां थी. आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद 18 दिसंबर 2016 को पीटी परीक्षा का आयोजन किया गया. इस परीक्षा का रिजल्ट 23 फरवरी 2017 को जारी किया गया. इस रिजल्ट में 6103 परीक्षार्थी सफल हुए.

इसके बाद सरकार ने नियमावली में संसोधन करते हुए दूसरी बार 11 अगस्त 2017 को पीटी के पहले रिजल्ट को संशोधित करते हुए रिजल्ट जारी किया. एक बार फिर 6 अगस्त 2018 को पीटी का तीसरा संसोधित रिजल्ट जारी किया गया.

तीसरे संसोधित रिजल्ट में 34,634 हजार के लगभग उम्मीदवार सफल हुए. इसी रिजल्ट के आधार पर 28 फरवरी 2019 को मुख्य परीक्षा का आयोजन किया गया.

इसे भी पढ़ें- धनबाद: निगम ने 6 माह पहले करोड़ों की लागत से बनायी सड़क, अब आउटसोर्सिंग कंपनी के दायरे में आकर होने लगी क्षतिग्रस्त

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

हाइकोर्ट से सुप्रीम कोर्ट में गया मामला

सरकार की ओर से दूसरी बार रिजल्ट जारी किये जाने के बाद पहली बार के पीटी रिजल्ट में सफल उम्मीदवारों ने हाइकोर्ट में याचिका दाखिल की. असल में सरकार ने 2018 में अधिसूचना जारी किया. जिसके बाद परीक्षा में न्यूनतम अंक पाने वाले भी परीक्षा में सफल हो गये.

सरकार के इस अधिसूचना के खिलाफ हाइकोर्ट में अपील की गयी. इस अपील पर गौर करते हुए 21 अक्टूबर 2019 को हाइकोर्ट के आदेश जारी करते हुए कहा कि छठी जेपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा में 6103 उम्मीदवार ही सफल माने जायेंगे.

हाइकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गयी. जहां सुप्रीम कोर्ट ने हाइकोर्ट के आदेश को सही बतलाते हुए मुख्य परीक्षा का परिणाम 6103 उम्मीदवारों पर ही जारी करने को कहा है. अभी मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी नहीं किया गया है.

इसे भी पढ़ें- #MomemtumJharkhand एक #SCAM कैसे? जानिए

ऐसी है रिक्तियों की संख्या

  • झारखंड प्रशासनिक सेवा: 143
  • झारखंड वित्त सेवा : 104
  • झारखंड शिक्षा सेवा : 36
  • झारखंड पुलिस सेवा : 06
  • झारखंड सहकारिता सेवा : 09
  • झारखंड सामाजिक सुरक्षा सेवा : 03
  • झारखंड सूचना सेवा : 07
  • झारखंड योजना सेवा : 18

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like