न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चार जिलों के 65,87,028 वोटर तय करेंगे 64 उम्मीदवारों की किस्मत

806

पांचवें चरण में छह मई को राज्य के चार जिले कोडरमा, रांची, खूंटी एवं हजारीबाग में होनी है वोटिंग

2014 के चुनाव से 11.45% अधिक मतदाता करेंगे अपने मत का प्रयोग
Ranchi: झारखंड में दूसरे चरण में 6 मई को वोटिंग होगी. इस दिन राज्य की 14 में से चार सीटों कोडरमा, रांची, खूंटी और हजारीबाग पर कुल 64 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाएंगे.

इस दौर के लिए दिनांक 10 अप्रैल 2019 को अधिसूचना जारी कर दी गई थी. स्क्रूटनी के बाद कोडरमा से 15, रांची से 22, खूंटी से 11 और हजारीबाग सीट से 16 उम्मीदवार चुनावी मैदान में है.

इसे भी पढ़ेंःएडीजी अनुराग गुप्ता को झटकाः झारखंड हाईकोर्ट ने खारिज की याचिका, आयोग के निर्देश को ठहराया सही

18-19 साल के 1,09,025 मतदाता

सीईओ (झारखंड) की वेबसाइट के अनुसार, इन चार सीटों पर 2019 लोकसभा चुनाव में कुल 65,87,028 मतदाता हैं. जिसमें 34,42,266 पुरुष, 31,44,679 महिलाएं और 83 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं.

जो 2014 के चुनाव से 11.45% अधिक है. 18-19 उम्र-वर्ग के कुल 1,09, 025 मतदाता इस बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. वहीं झारखंड में इस चुनाव में 2 करोड़ 19 लाख 81 हजार से अधिक मतदाता अपने मत प्रयोग करेंगे.

वहीं 29 अप्रैल को झारखंड में चौथे चरण के हुए चुनाव में तीन सीटों चतरा, पलामू एवं लोहरदगा पर 63.42 % मतदान हुआ था, जो 2014 में हुए लोक सभा चुनाव से करीब 4.6% ज्यादा है. 2014 में 58. 82% वोटिंग हुई थी.

चार सीटों पर मतदान के लिये 8834 मतदान केंद्र

Related Posts

महिला कांग्रेस अध्यक्ष पर आरोप,  बड़े नेताओं को खुश करने को कहती थीं, आरोप को बेबुनियाद बताया गुंजन सिंह ने

पैसा नहीं कमाओगी और बड़े नेताओं को खुश नहीं रखोगी, तो तुम्हें कौन टिकट दिलायेगा.

SMILE

चार सीटों पर मतदान कराने के लिए कुल 8, 834 मतदान केंद्र बनायें गये हैं. इसमें 7,522 ग्रामीण एवं 1, 322 शहरी केंद्र हैं. वहीं पूरे राज्य में लोक सभा चुनावों के लिए कुल 29,464 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

इसे भी पढ़ेंःनामकुम में नैनो से 50 लाख से अधिक कैश बरामद, एक महीने में रांची से मिले 1.38 करोड़

इनमें 28, 345 मतदान केंद्रों में रैंप की व्यवस्था की गई है. 28, 970 केंद्रों पर पेयजल, 28,980 केंद्रों में शौचालय, 24,826 केंद्रों में बिजली और 27,641 मतदान केंद्रों पर शेड की व्यवस्था की गई है.

मतदान केंद्रों में ये सुविधाएं रहेंगी उपलब्घ

निर्वाचन आयोग ने सभी केंद्रों में न्यूनतम मूलभूत सुविधाएं- पेयजल, फर्नीचर, मेडिकल किट, बिजली, शौचालय, शेड, हेल्प डेस्क, साइनेज इत्यादि, उपलब्ध कराने का निर्देश जिला निर्वाचन पदाधिकारियों को दिया है.

साथ ही दिव्यांग मतदाताओं के लिए रैंप, व्हील चेयर, परिवहन सुविधा के साथ उन्हें मदद करने के लिए वोलेंटियर्स की भी मौजूदगी मतदान केंद्रों पर सुनिश्चित की जाएगी.

इसे भी पढ़ेंःपाकिस्तान ने ग्लोबल टेररिस्ट मसूद अजहर की संपत्तियां की सील, यात्रा पर भी बैन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: