JamshedpurJharkhand

EXCLUSIVE : एमजीएम हॉस्पिटल में 63 लाख का इंसीनरेटर खा रहा जंग, खुले में पड़ा मेडिकल वेस्ट दे रहा संक्रमण को दावत  

Pratik Piyush

Jamshedpur : कोरोना काल में जहां साफ-सफाई को लेकर विशेष ध्यान दिया जा रहा है, वहीं कोल्हान के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एमजीएम में अव्यवस्था का यह हाल है कि यहां 63 लाख की लागत से लगाया गया इंसनरेटर पड़ा-पड़ा धूल खा रहा है और अस्पताल के अंदर का मेडिकल वेस्टेज इधर-उधर पड़ा संक्रमण और बीमारियों को न्योता दे रहा है.

advt

हाईकोर्ट ने अस्पतालों को जारी किया था नोटिस

झारखंड हाईकोर्ट ने राज्य के सभी अस्पताल को नोटिस जारी कर कहा था कि अस्पताल के अंदर का मेडिकल वेस्ट अगर अस्पताल परिसर में इधर-उधर फेंका जाएगा, तो उन अस्पतालों पर क़ानूनी कार्रवाई की जाएगी. लेकिन एमजीएम में खुले में मेडिकल वेस्ट फेंक दिया जाता है.

63 लाख खर्च कर मंगवाया गया था इंसिनरेटर का सेटअप

हाईकोर्ट के आदेश के तुरंत बाद ही एमजीएम अस्पताल प्रबंधन की ओर से मेडिकल वेस्ट को डिजॉल्व करने को लेकर अस्पताल में इंसीनरेटर मशीन लगाी गयी, पर कोरोना की दूसरी लहर खत्म होने के बाद भी आज तक उस का इस्तेमाल नहीं हो पाया.

मेरे पास मेडिकल वेस्ट खुले में फंके जाने की  जानकारी नहीं है. अगर ऐसा है तो मेडिकल वेस्ट को हटवाया जाएगा. साथ ही मेडिकल वेस्ट डंप करनेवाले लोगों पर कार्रवाई होगी.
अरुण कुमार, एमजीएम अस्पताल सुपरिटेंडेंट

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: