न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

62 वर्षीय रामकेश्वर की अच्छी पहल, रिम्स को किया शरीर दान

102

Palamu: जिले के हुसैनाबाद क्षेत्र के एक वृद्ध ने अपना शरीर दान कर समाज के लिए प्रेरणा बन गये हैं. दमदमी गांव के रहने वाले 62 साल के रामकेश्वर महतो ने राजेन्द्र इंस्चट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) को अपना शरीर दान किया है. शुक्रवार को रामकेश्वर राम ने पत्रकारों को बताया कि शरीर को जलाने से वातावरण प्रदूषित होता है, इस वजह से अपना शरीर मेडिकल कॉलेज को दान देने का निर्णय लिया है. उन्होंने बताया कि मरणोपरांत मेरा शरीर देश के भविष्य के हाथों में जायेगा जिससे मेरा आंख, किडनी, हर्ट सहित अन्य अंग समाज के काम आएगा एवं मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाले छात्र-छात्राएं मेरे शरीर पर शोध कर अन्य लोगों को जीवन दे सकेंगे. मौके पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता रामप्रवेश सिंह एवं डॉ. अखिलेश प्रसाद गुप्ता उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें- मेरे आवास पर पुणे पुलिस के द्वारा की गई तलाशी, अवैध एवं अमानवीय थी – स्टेन स्वामी

एम्स से मिली प्रेरणा

hosp1

रामकेश्वर महतो ने बताया की कुछ दिनों पहले अपने मित्र पहरावरी चौधरी जी को आंख के इलाज के लिये दिल्ली स्थित एम्स ले गया था. वहां अस्पताल के एक बोर्ड पर अंग दान लिखा पाया. वहां जानकारी लेने पर डॉक्टरों की टीम ने बताया कि अंग दान व शरीर दान से समाज के लिए काफी लाभदायक है. जिससे प्रेरित होकर मैंने भी अपना शरीर दान करने का निर्णय लिया.

इसे भी पढ़ें- रांचीः पंडरा के बनहोरा मैदान को लेकर विवाद, दावा ठोंक रहे पक्ष का ग्रामीणों ने किया विरोध

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: