न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राज्य के 60 फीसदी कॉलेज रूसा के अनुदान से वंचित, इन कॉलेजों के पास नहीं है अपनी जमीन

विभाग एवं विवि की लापरवाही कारण कॉलेजों को नहीं मिल रहा है अनुदान

103

Ranchi : झारखंड के 60 फीसदी कॉलेजों के भवन निर्माण और रिपेयरिंग के लिये रूसा की ओर से अनुदान नहीं दिया जा रहा है. राष्ट्रीय उच्चत्तर शिक्षा अभियान (रूसा) कॉलेज एवं विश्वविद्यालयों के आधारभूत संरचना एवं उनके नवीनकरण के लिये राशि प्रदान करती है. झारखंड राज्य को रूसा के द्वारा उच्चत्तर शिक्षा में आधारभूत संरचना के लिये कुल 244 करोड़ रूपये की राशि आवंटित की गयी. विश्वविद्यालय के 40 फीसदी कॉलेजों को रूसा द्वारा आवंटित राशि के माध्यम कई कॉलेजों में निमार्ण कार्य आरंभ कर दिया गया है. जबकि 60 फीसदी कॉलेजों में रूसा के द्वारा अनुदान राशि नहीं दिया जा रहा है और इस मामले में उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग और विश्वविद्यालय के अधिकारियों की ओर से अबतक कोई पहल नहीं किया गया.

mi banner add

इसे भी पढ़ें – हटाये जायेंगे सीबीआइ प्रमुख, मिल सकती है राकेश अस्थाना को नई जिम्मेदारी !

क्यों नहीं मिल रहा है कॉलेजों को रूसा का अनुदान

रूसा उन्हीं कॉलेजों एवं विश्वविद्यालयों को राशि प्रदान करती है, जिन संस्थानों का नैक ग्रेडिंग हो. नैक ग्रेडिंग के साथ ही कॉलेज एवं विश्वविद्यालय के वर्तमान कैंपस की जमीन उस संस्थान के नाम से हो. रांची विश्वविद्यालय के अंर्तगत कांके स्थित एसएस मेमोरिलय कॉलेज,कोकर स्थित रामलखन सिंह यादव कॉलेज, ध्रुवा स्थित जेएन कॉलेज, खूंटी स्थित बिरसा कॉलेज के पास अपनी जमीन ना होने से रूसा द्वारा इन कॉलेजों को राशि आवंटित नहीं किया गया है. इसी तर्ज पर राज्य के अन्य 7 विश्वविद्यालयों के कई कॉलेजों को भी रूसा राशि आवंटित नहीं किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – CM के पास IFS अफसरों के लिए समय नहीं, झारखंड में एक्सपोजर नहीं-हो रहे डिमोरलाइज

50 साल पुराने कॉलेजों को अबतक नहीं मिला मालिकाना हक

राज्य के 60 फीसदी कॉलेज जो रूसा की राशि से वंचित रह गये हैं. वहीं 50 साल से ज्यादा समय से राज्य में स्थापित कॉलेज के कैंपस पर अधिकारियों की अनदेखी की वजह से उसे सही रूप में स्थापित नहीं किया गया. अधिकारियों द्वारा इन कॉलेजों की जमीन स्थानातरंण एवं कैंपस स्थानातरंण पर कोई पहल नहीं की गयी है. जिससे राज्य के अधिकत्तर कॉलेज छात्रों को वर्तमान में आधारभूत संरचना नहीं प्रदान कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें – जानिए पाकुड़ के नक्सली कुणाल मुर्मू एनकाउंटर का पूरा सच, जिसपर अब डीसी उठा रहे हैं सवाल

Related Posts

गिरिडीह : बार-बार ड्रेस बदलकर सामने आ रही थी महिलायें, बच्चा चोर समझ लोगों ने घेरा

पुलिस ने पूछताछ की तो उन महिलाओं ने खुद को राजस्थान की निवासी बताया और कहा कि वे वहां सूखा पड़ जाने के कारण इस क्षेत्र में भीख मांगने आयी हैं

रूसा के तहत राज्य के 69 कॉलेज हैं दर्ज

झारखंड राज्य के 69 कॉलेज रूसा के तहत पंजीकृत हैं. 69 कॉलेजों में से 41 कॉलेजों ने रूसा के तहत मिलने वाली राशि के लिए बीते साल आवेदन दिया था. वहीं रूसा द्वारा 25 कॉलेजों को उनके आधाभूत संरचना के विकास के लिए 244 करोड़ रूपये की राशि प्रदान की गयी है.

इसे भी पढ़ें – बिजली नहीं होने के कारण अधर में लटका रिम्स हॉस्टल का निर्माण कार्य

अन्य कॉलेजों के लिए सरकार कर रही है पहल- विभाग

उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग की उप-निदेशक डॉ सविता मिश्रा ने कहा कि राज्य के हर कॉलेज को आधरभूत संरचना मिले, इसके लिए विभाग की ओर से पहल की जा रही है. विश्वविद्यालयों के साथ बैठककर संबंधित कॉलेजों को चिन्हित कर उसका समाधान किया जायेगा ताकि रूसा के तहत इनका विकास किया जा सके.

इसे भी पढ़ें – जिस क्षेत्र में भी हेमंत जा रहे हैं, उन्हें वह दिखता है अविकसित: शिवशंकर उरांव

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: