ChaibasaCorona_UpdatesJamtaraJharkhand

पश्चिमी सिंहभूम के क्वारेंटाइन सेंटर से 6 और जामताड़ा सदर अस्पताल से 1 कोरोना संदिग्ध फरार

Chaibasa/Jamtara: झारखंड में दो अलग-अलग जिलों से सात कोरोना संदिग्ध के फरार हो गये. इनमें 6 संदिग्ध पश्चिमी सिंहभूम जिले के क्वारेंटाइन सेंटर से जबकि एक संदिग्ध जामताड़ा सदर अस्पताल से भागे गये. हालांकि पश्चिमी सिंहभूम वाले 3 संदिग्ध लौट आये हैं.

पश्चिमी सिंहभूम की घटना रविवार रात की है. जिले के जगन्नाथपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित राजकीय रसेल प्लस टू उच्च विद्यालय में बने क्वारेंटाइन सेंटर में रविवार रात एक व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि होने के बाद मजदूरों में हड़कंप मच गया.

उसके बाद देर रात छह मजदूर मौका देखकर सेंटर से भाग खड़े हुए. सोमवार सुबह जब इसकी जानकारी पुलिस-प्रशासनिक महकमें को मिली तो खलबली मच गयी.

सूचना मिलते ही जगन्नाथपुर अनुमंडलाधिकारी स्मृता कुमारी, जगन्नाथपुर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रदीप उरांव, प्रखंड विकास पदाधिकारी सह दण्डाधिकारी संतोष कुमार,जगन्नाथपुर थाना प्रभारी मधुसुदन मोदक, जेटेया थाना प्रभारी सहदेव टोप्पो समेत कई अधिकारी राज्यकीय रसेल प्लस टू उच्च विद्यालय के प्रांगण में बने क्वारेंटाइन सेंटर पहुंचें और रात्रि ड्यूटी में तैनात सेंटर इंचार्च व सुरक्षा कर्मियों से पूछताछ की.

पुलिस की खोजबीन से 2-3 लोग अपने-अपने घर से वापस क्वारेंटाइन सेंटर आ गये हैं जबकि तीन लोग अब तक नहीं लौटे हैं.

बहरहाल भागने वाले सभी प्रवासियों के विरुद्ध मामला दर्ज करने का निर्देश दिया गया है. साथ ही ड्यूटी के दौरान लापरवाही बरतने वाले सुरक्षाकर्मियों के विरुद्ध भी कार्रवाई की तैयारी चल रही है. जगन्नाथपुर थाना में मामला दर्ज करने की भी प्रकिया जारी है.

इसे भी पढ़ें – होम क्वारंटाइन की जगह लगा रहा था चौके-छक्के, रिपोर्ट आने के बाद हड़कंप, गांव-बाजार सील

कोरोना संदिग्ध मरीज जामताड़ा सदर अस्पताल से फरार

इधर जामताड़ा सदर अस्पताल में भर्ती कोरोना संदिग्ध मरीज के फरार होने से अस्पताल प्रबंधन में खलबली मच गयी.

5 जून को कोयंबटूर से उक्त मरीज अपना गांव आमलाजोरी पहुंचा था. घर वालों ने घर में प्रवेश नहीं करने दिया था. उसके स्वास्थ्य जांच के लिए जामताड़ा सदर अस्पताल भेजा था।.

सदर अस्पताल में चिकित्सक ने कोरोना के कुछ लक्षण देखे थे. उसे सदर अस्पताल में भर्ती कर ट्रू नेट मशीन से जांच करने की सलाह दी थी.

लेकिन सोमवार दोपहर बाद अस्पताल से मरीज फरार हो गया.

इसे भी पढ़ें – 20% ज्यादा मजदूरी व बेहतर सुविधाओं के साथ संथाल के 11,815 मजदूर करेंगे BRO के काम

सदर अस्पताल उपाधीक्षक ने सीएस को लिखा पत्र

मरीज के फरार होने को लेकर सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ चंद्रशेखर आजाद ने सीएस व डीसी को पत्र लिख कर सूचना दी है.

साथ ही उन्होंने चार गार्ड की मांग की है. तीन शिफ्ट में तीन गार्ड एवं एक अतिरिक्त गार्ड की व्यवस्था करने की मांग की है.

इसे भी पढ़ें – Warning: अगर है पक्का घर तो सरेंडर करें राशन कार्ड, नहीं तो दर्ज होगी FIR

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button