West Bengal

बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले 6 लाख युवा चेहरों को पार्टी में शामिल करेगी तृणमूल

Kolkata. 2021 के बंगाल विधानसभा चुनावों से पहले युवा चेहरों के साथ तृणमूल कांग्रेस की जमीनी स्तर की लड़ाई को मजबूत करने के लिए चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की टीम जुटी है. इसी का नतीजा है कि बिना किसी पूर्व राजनीतिक संबद्धता के 6 लाख से अधिक युवाओं ने सत्तारूढ़ दल में शामिल होने के लिए आवेदन किया है.

युवा चेहरों से सदस्यता के लिए आवेदन करने के अभियान शुरुआत प्रशांत किशोर की अगुवाई वाली इंडियन पॉलीटिकल एक्शन कमिटी (आई-पैक) द्वारा की गई थी. 2019 के लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन के बाद तृणमूल ने प्रशांत किशोर को अपनी चुनावी रणनीति का जिम्मा सौंपा था.

सूत्रों के अनुसार, आई-पैक ने आवेदकों के सीवी की जांच के बाद पहले चरण में 1 लाख युवाओं के आवेदन को मंजूरी दी है और नए युवाओं के लिए शामिल होने का सत्र रविवार से शुरू होगा. पार्टी में शामिल नए चेहरों को किशोर की टीम द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा.

Catalyst IAS
ram janam hospital

ये भी पढ़ें- हुगली: भाजपा कार्यालय में तोड़फोड़ व कार्यकर्ताओं पर हमला, तृणमूल पर लगे आरोप

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

आई-पैक उन लोगों के उद्देश्य से है जो सीधे राजनीति में शामिल नहीं हैं. बताया गया कि जिन युवाओं ने तृणमूल में शामिल होने के लिए आवेदन किया है वे 18 से 35 वर्ष की आयु के हैं. इधर, तृणमूल के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि युवाओं की यह पीढ़ी बंगाल में राजनीति का भविष्य हैं.

अगले साल होने वाले महत्वपूर्ण चुनावों से पहले सभी 294 विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी ने एक युवा ब्रिगेड बनाने की योजना बनाई है. उन्होंने कहा कि हाल में पार्टी ने अपने सांगठनिक व जिला स्तर पर बड़ा फेरबदल किया है, उसमें भी युवा चेहरों को तवज्जो दिया गया है. नए लोग ममता बनर्जी की अगुवाई वाली राज्य सरकार के बंगाल में विकास कार्यों के बारे में बताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.

किशोर की टीम उन्हें विधानसभा क्षेत्रों के हिसाब से प्रशिक्षित करेगी, जो उजागर करने वाले मुद्दे होंगे उस बारे में उन्हें बताया जाएगा. एक अन्य तृणमूल नेता ने भी पार्टी में युवाओं को शामिल के लिए प्रेरित करने पर जोर देते हुए कहा, हालांकि 2019 के लोकसभा चुनाव में पार्टी को हार का सामना करना पड़ा, लेकिन पार्टी के वोट-शेयर में 1 फीसद की वृद्धि हुई.

ये भी पढ़ें- रिसर्च में खुलासा, डेंगू होने पर कोरोना का टेस्ट भी आ सकता है पॉजिटिव

उन्होंने कहा कि हमारे आंतरिक मूल्यांकन में ईवीएम बटन दबाते समय तृणमूल पर विश्वास करने वाले युवा मतदाताओं की एक महत्वपूर्ण संख्या का पता चला है. यही कारण है कि हमने अपनी पार्टी में अधिक से अधिक युवा चेहरों को लाने का फैसला किया है. सूत्रों ने कहा कि अगले कुछ महीनों में आई-पैक बाकी आवेदनों की भी जांच करेगा और चयनित आवेदकों की अंतिम सूची बनाएगा.

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button